Your Ads Here

महिला एवं बाल विकास मंत्री ने किया सिक्ख समाज की प्रतिभाशाली महिलाओं का सम्मान


रायपुर । महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अनिला भंेडि़या ने आज रायपुर में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर विभिन्न क्षेत्रों में उपलब्धि हासिल करने वाली सिक्ख महिलाओं को सम्मानित किया। कार्यक्रम का आयोजन छत्तीसगढ़ सिक्ख वेलफयर ऑफिसर्स एसोसियेशन और पंजाबी वुमन वेलफेयर कल्चर सोसायटी के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया गया। उन्होंने एसोसिएट प्रोड्यूसर पारूल खुराना,मुंबई में कार्यरत पंजाबी फिल्मों की अभिनेत्री, मॉडल और एंकर पॉपी जब्बल, प्रथम सत्र एवं व्यवहार न्यायाधीश सतप्रीत कौर छाबड़ा, मैट्स विश्वविद्यालय रायपुर में डीन डॉ. परविन्दर कौर हंसपाल और प्राध्यापक डॉ.जसलीन कौर गरचा,उप पुलिस अधीक्षक रशमीत कौर चावला, उप पुलिस अधीक्षक नवनीत कौर छाबड़ा को सम्मानित किया।
श्रीमती भंेडि़या ने मुख्य अतिथि की आसंदी से अंतराष्ट्रीय महिला दिवस की बधाई देते हुए कहा कि यह दिन महिलाओं के समान अधिकारों के संघर्ष का प्रतीक है। महिलाओं ने हर क्षेत्र में सफलता का परचम लहराया है। सिक्ख समुदाय की महिलाएं पढ़ी लिखी और समर्थ हैं। उन्होंने महिलाओं से अपील की वे आगे आकर छत्तीसगढ़ की महिलाओं की शिक्षा और प्रगति के लिए प्रयास करें। समाज की रूढ़ीवादी विचारधारा को बदलने में सहयोग करें। महिलाओं के विकास में उनके पिता, भाई और पति सहित पूरे परिवार का सहयोग रहता है। महिला और पुरूष एक गाड़ी के दो पहिए हैं, पुरूष वर्ग महिलाओं से कदम मिलाकर चलेंगें तब ही परिवार और समाज का विकास हो सकेगा। 
कार्यक्रम के विशेष अतिथि विधायक श्री कुलदीप जुनेजा ने कहा कि महिलाएं शक्ति की प्रतीक हैं। आज कोई क्षेत्र नहीं जहां महिलाओं ने अपनी उपस्थिति दर्ज न की हो। उन्होंने सम्मानित महिलाओं को बधाई देते हुए कहा कि समाज की बेटियों ने अपनी उपलब्धि से परिवार और समाज ही नहीं पूरे प्रदेश का नाम रोशन किया है। इस अवसर पर सेवानिवृत्त न्यायाधीश श्री सतप्रीत कौर छाबड़ा, पंजाबी वुमन वेलफेयर कल्चर सोसायटी की अध्यक्षा श्रीमती गुरशरण कौर गरचा, छत्तीसगढ़ सिक्ख वेलफयर ऑफिसर्स एसोसियेशन के संयोजक श्री जी.एस.बाम्बरा अन्य पदाधिकारी सहित बड़ी संख्या में सिक्ख समुदाय के लोग उपस्थित थे।

No comments

Powered by Blogger.