छत्तीसगढ़

सोमवार, 5 अप्रैल 2021

हमारे जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाने दिया जाएगा सीएम भूपेश

by

 

Bijapur muthbhed

नक्सलियों के खिलाफ लड़ाई को और बेहतर रणनीति के साथ लड़ा जाएगा: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

एनपीन्यूज।  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि नक्सलियों के खिलाफ लड़ाई को और बेहतर रणनीति के साथ लड़ा जाएगा। मुख्यमंत्री ने आज बीजापुर में बासागुड़ा सीआरपीएफ कैम्प पहुंचकर सीआरपीएफ और राज्य पुलिस बल के अधिकारियों व जवानों से वर्तमान हालात के बारे में चर्चा की। इस दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमीत शाह भी मौजूद थे। इस अवसर पर सभी लोगों ने दो मिनट का मौन धारण कर बीजापुर की नक्सल घटना में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बीजापुर जिले के बासागुड़ा सीआरपीएफ केम्प में सुरक्षा बलों के जवानों को संबोधित करते हुए कहा कि हमारे जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जायेगा। हमारे जवानों ने अदम्य साहस और बहादुरी के साथ नक्सलियों का मुकाबला किया है, जिससे नक्सलियों को काफी नुकसान हुआ है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे जवान बुलन्द हौसले के साथ नक्सलियों से लड़े। उनकी शहादत पर हमें गर्व है। उन्होंने कहा कि नक्सलियों के खिलाफ चल रही लड़ाई को अब और बेहतर रणनीति के साथ लड़ा जाएगा। मुख्यमंत्री ने बीजापुर-सुकमा के दूरस्थ और सीमावर्ती इलाकों के विकास कार्यों को प्राथमिकता के साथ संचालित करने की बात कही। इस मौके पर मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल एवं केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने केम्प में सुरक्षा बल के जवानों का हौसला बढ़ाया।

शनिवार, 13 मार्च 2021

सिरपुर को वर्ल्ड हेरीटेज बनाने राज्य शासन कटिबद्ध : मुख्यमंत्री भूपेश

by

Sirpur mahotsav


रायपुर, एनपीन्यूज। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि सिरपुर को वर्ल्ड हेरिटेज के रूप में विकसित करने और पहचान दिलाने के लिए राज्य शासन कटिबद्ध है। जो भी कदम उठाने पड़े वो उठाएं जायेंगे। सिरपुर का पुरा वैभव बहुत ही विस्तृत है। जो लगभग 10 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है और इस तरह अन्य जगह विस्तारित बौद्ध केन्द्र नहीं हैं। उन्होंने कहा कि सिरपुर, डोंगरगढ़ और मैनपाट को टूरिज्म सर्किट से जोड़ने की तैयारी की जा रही है। पर्यटन सर्किट से जुड़ जाने से इस ओर सैलानियों का रूझान बढ़ेगा। जल्दी ही सिरपुर विश्व मानचित्र पर अंकित होगा। मुुख्यमंत्री  आज महासमुंद जिले के सिरपुर में आयोजित तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय सिरपुर बौद्ध महोत्सव एवं शोध संगोष्ठी कार्यक्रम में मुख्य अतिथि की आसंदी से सम्बोधित कर रहे थे।
Bhupesh baghel sirpur mahotsav


मुख्यमंत्री बघेल ने इस मौके पर उन्होंने सिरपुर के विकास के लिए 211.52 लाख के कार्यों की घोषणा की। इनमें 25 लाख रूपए की लागत से गेट का निर्माण, 73 लाख रूपए की लागत से सिरपुर मार्ग पर 04 तालाबों का सौंदर्यीकरण, 50 लाख रूपए की लागत से सिरपुर मार्ग पर 06 उपवन निर्माण, सिरपुर के रायकेरा तालाब के लिए 25 लाख रूपए  और कोडार-पर्यटन (टैटिंग एवं बोटिंग) के लिए राशि की घोषणा की। उन्होंने इस मौके पर तथागत संदेश मासिक पत्रिका सिरपुर बौद्ध विशेषांक का विमोचन किया और आर्टिस्टों द्वारा बनाई गई पेंटिंग एक्जिविशन का अवलोकन किया तथा पेंटिंग की सराहना की। मुख्यमंत्री ने भदंत नागार्जुन सुरई ससई और आचार्य श्री विचार साहेब का चींवर भेंट कर सम्मानित किया। इस मौके पर छत्तीसगढ़ हेरिटेज एंड कल्चरल फॉउंडेशन के आयोजकों द्वारा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को शोध संगोष्ठी पर आधारित स्मारिका भेंट की गई।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि उनकी सरकार को अभी दो साल हुए है। कोरोना संकटकाल के बावजूद हमारी सरकार ने छत्तीसगढ़ में कई विकास कार्य किए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने आते ही किसानों से 2500 रूपए मूल्य पर धान खरीदा। उन्होंने गोधन न्याय योजना का जिक्र करते हुए कहा कि इस योजना के तहत् गौ-पालकों से दो रूपए किलो की दर से गोबर की भी खरीदी की जा रही है। उन्होंने बताया कि लोकसभा की स्टैडिंग कमेटी द्वारा इस योजना को देश के अन्य राज्यों में लागू करने का का सुझाव दिया है। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ का प्राचीनकाल से ही सभी क्षेत्रों में बढ़-चढ़कर योगदान रहा है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ को शिक्षा, स्वास्थ्य के साथ ही संस्कृति, इतिहास पहचान दिलाने के लिए राज्य सरकार द्वारा अनेक कदम उठाए जा रहे हैं। प्रदेश के गरीब बच्चों को भी अंग्रेजी माध्यम में शिक्षा दिलाने के लिए जिला मुख्यालयों में प्रथम चरण में 52 स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोले गए हैं। इस वर्ष 119 नए विद्यालय खोले जा रहे हैं। इस तरह कुल 171 अंग्रेजी माध्यम के स्कूल खोले जाएंगे, इसी तरह नवा रायपुर में गरीब बच्चों के लिए सर्व सुविधायुक्त बोर्डिंग स्कूल खोला जा रहा हैं।


 

रोजगार देने में छत्तीसगढ़ मनरेगा देश में अव्वल

by

Manrega chattisgarh


रायपुर एनपीन्यूज। छत्तीसगढ़ मनरेगा (महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम) के अंतर्गत लक्ष्य के विरूद्ध रोजगार देने में देश में पहले स्थान पर है। चालू वित्तीय वर्ष 2020-21 में भारत सरकार द्वारा स्वीकृत 15 करोड़ मानव दिवस रोजगार सृजन के लक्ष्य के विरूद्ध यहां अब तक 16 करोड़ छह लाख 84 हजार मानव दिवस रोजगार का सृजन किया जा चुका है। मनरेगा लागू होने के बाद से इस वर्ष प्रदेश में सबसे अधिक रोजगार उपलब्ध कराने का नया रिकॉर्ड स्थापित हुआ है। मनरेगा श्रमिकों को अब तक इस साल के लिए निर्धारित लक्ष्य के विरूद्ध 107 प्रतिशत से अधिक रोजगार मुहैया कराया जा चुका है, जबकि अभी वित्तीय वर्ष के पूरा होने में दो सप्ताह से अधिक का समय शेष है। प्रदेश भर में इस समय मनरेगा कार्य जोर-शोर से प्रगति पर हैं। 


मनरेगा के क्रियान्वयन में 107 प्रतिशत से अधिक कार्य पूर्णता के साथ छत्तीसगढ़ देश में शीर्ष पर है। पश्चिम बंगाल 105 प्रतिशत, असम और बिहार 104-104 प्रतिशत तथा ओड़िशा 103 प्रतिशत कार्य पूर्णता के साथ क्रमशः दूसरे, तीसरे, चौथे और पांचवें स्थान पर है। वर्ष 2006-07 में मनरेगा की शुरूआत के बाद से इस साल प्रदेश में सर्वाधिक मानव दिवस रोजगार दिया गया है। वर्ष 2015-16 से 2019-20 तक पिछले पांच वर्षों में क्रमशः दस करोड़ 14 लाख, आठ करोड़ 86 लाख, 11 करोड़ 99 लाख, 13 करोड़ 86 लाख और 13 करोड़ 62 लाख मानव दिवस रोजगार जरूरतमंदों को मुहैया कराया गया है। चालू वित्तीय वर्ष में अप्रैल-2020 से फरवरी-2021 तक 2617 करोड़ 88 लाख रूपए का मजदूरी भुगतान मनरेगा श्रमिकों को किया गया है।


मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने ग्रामीणों को रोजगार उपलब्ध कराने रिकॉर्ड संख्या में मानव दिवस सृजित करने के लिए विभागीय अधिकारियों-कर्मचारियों तथा पंचायत प्रतिनिधियों को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के चलते लाक-डाउन के बावजूद मनरेगा के अंतर्गत तत्परता से शुरू हुए कार्यों से ग्रामीणों को बड़ी संख्या में सीधे रोजगार मिला। मनरेगा कार्यों ने विपरीत परिस्थितियों में भी ग्रामीण अर्थव्यवस्था को गतिशील रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। 

प्रदेश में चालू वित्तीय वर्ष के लिए निर्धारित लक्ष्य के विरूद्ध रोजगार सृजन में बिलासपुर जिला सबसे आगे है। वहां लक्ष्य के विरूद्ध अब तक 131 प्रतिशत से अधिक मानव दिवस काम दिया गया है। गोरेला-पेंड्रा-मरवाही में 125 प्रतिशत, कांकेर में 119 प्रतिशत, सरगुजा में 118 प्रतिशत, जांजगीर-चांपा में 117 प्रतिशत, दुर्ग और जशपुर में 115-115 प्रतिशत, रायगढ़ में 110 प्रतिशत, बालोद में 109 प्रतिशत, दंतेवाड़ा और कोरिया में 108-108 प्रतिशत, बेमेतरा, कोंडागांव और रायपुर में 107-107 प्रतिशत, महासमुंद में 106 प्रतिशत, बलौदाबाजार-भाटापारा और कोरबा में 105-105 प्रतिशत, कबीरधाम, बीजापुर और मुंगेली में 104-104 प्रतिशत, गरियाबंद में 102 प्रतिशत, धमतरी और सुकमा में 101-101 प्रतिशत, बलरामपुर-रामानुजगंज में 100 प्रतिशत, राजनांदगांव और बस्तर में 98-98 प्रतिशत, सूरजपुर में 96 प्रतिशत तथा नारायणपुर जिले में 95 प्रतिशत लक्ष्य हासिल कर लिया गया है।

Manrega chart states

केंद्र सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ के लिए 2020-21 के बजट में साढ़े 13 करोड़ मानव दिवस रोजगार की स्वीकृति दी गई थी। वित्तीय वर्ष की शुरूआत में ही ग्रामीणों को व्यापक स्तर पर रोजगार उपलब्ध कराने और कोरोना महामारी के चलते लागू देशव्यापी लॉक-डाउन के दौर में ग्रामीण अर्थव्यवस्था की मजबूती के लिए प्रदेश भर में बड़े पैमाने पर मनरेगा कार्य शुरू किए गए थे। इसके चलते प्रारंभिक तीन महीनों में ही इस लक्ष्य का 66 प्रतिशत काम पूरा कर लिया गया था। इसे देखते हुए राज्य शासन ने चालू वित्तीय वर्ष के लिए मनरेगा के तहत रोजगार सृजन का लक्ष्य साढ़े 13 करोड़ मानव दिवस से बढ़ाकर 15 करोड़ मानव दिवस करने का आग्रह किया था। मनरेगा में छत्तीसगढ़ के लगातार अच्छे कार्यों के आधार पर केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय ने 15 करोड़ मानव दिवस रोजगार के संशोधित लक्ष्य की मंजूरी दी है।

 

शुक्रवार, 12 मार्च 2021

सीबीआई में अस्थाई निदेशक की नियुक्ति के खिलाफ याचिका पर केंद्र को नोटिस

by


नयी दिल्ली । उच्चतम न्यायालय ने केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के निदेशक पद पर स्थाई नियुक्ति संबंधी याचिका पर शुक्रवार को केंद्र सरकार से जवाब तलब किया।

न्यायमूर्ति एल नागेश्वर राव और न्यायमूर्ति एस रवींद्र भट की खंडपीठ ने गैर सरकारी संगठन कॉमन कॉज की जनहित याचिका की सुनवाई करते हुए केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया।

न्यायालय ने नोटिस के जवाब के लिए केंद्र को दो सप्ताह का समय दिया है।

याचिकाकर्ता की ओर से पेश जानेमाने वकील प्रशांत भूषण ने श्री प्रवीण सिन्हा को सीबीआई के अंतरिम/कार्यवाहक निदेशक पद पर नियुक्ति का विरोध किया। श्री ऋषि कुमार शुक्ला के दो फरवरी को निदेशक पद से सेवानिवृत होने के बाद श्री सिन्हा को अंतरिम नियुक्ति दी गई थी।

श्री भूषण ने दलील दी कि सीबीआई के अंतरिम निदेशक पद पर नियुक्ति का कोई प्रावधान नहीं है। नियमित निदेशक पद पर नियुक्ति नहीं होने से जांच एजेंसी का कामकाज प्रभावित होता है।

श्री भूषण ने कहा कि यह मामला बहुत ही गंभीर है और इसकी सुनवाई जल्दी कराई जानी चाहिए। लेकिन न्यायालय ने केंद्र सरकार को नोटिस जारी करते हुए दो सप्ताह के लिए सुनवाई स्थगित कर दी।

शीर्ष अदालत ने कहा कि अगले सप्ताह संबंधित जज खाली नहीं है क्योंकि वे मराठा आरक्षण से संबंधित संविधान पीठ का हिस्सा होंगे।


देश में पिछले 24 घंटों में 19 राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना से कोई मौत नहीं

by

नयी दिल्ली। देश में पिछले 24 घंटों में 19 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी से कोई मौत नहीं हुई है। इस दौरान अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह, अरुणाचल प्रदेश, बिहार, चंडीगढ़, दादर-नागर हवेली दमन-दीव, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, लद्दाख, लक्षद्वीप, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, ओडिशा, पुड्डुचेरी, राजस्थान, सिक्किम और त्रिपुरा में कोरोना से कोई मौत नहीं हुई है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शुक्रवार सुबह जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना संक्रमण के 23,285 नये मामले सामने आए जिसके साथ ही संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर एक करोड़ 13 लाख आठ हजार 846 हो गई है। 

इस दौरान 15157 मरीज स्वस्थ होने से बीमारी ठीक होने वालों संख्या 10953303 हो गई है। सक्रिय मामलों में दोगुनी वृद्धि हुई है। नए 8011 सक्रिय मामलों के साथ इसकी कुल संख्या 197237 हो गई है। इस दौरान 117 लोगों की मौत होने से मृतकों संख्या 158306 हो गई है।

गुरुवार, 11 मार्च 2021

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पहुंचे बठेना, मृतकों को दी श्रद्धांजलि, शोक-संतप्त परिवारजनों के लिए 5 लाख रुपए की सहायता राशि देने के दिए निर्देश

by


 : पुलिस को घटना की सघन जांच के निर्देश

रायपुर । मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज दुर्ग जिले के पाटन विकासखण्ड के ग्राम बठेना पहुंचे। उन्होंने गायकवाड़ परिवार के परिवारजनों से मिलकर उनके प्रति संवेदना व्यक्त की तथा घटना में मृतक सदस्यों को श्रद्धांजलि अर्पित की। बठेना के गायकवाड़ परिवार के पांच सदस्यों की संदिग्ध परिस्थितियों में मृत्यु हो गयी थी। मुख्यमंत्री ने पीड़ित परिवार के परिवारजनों को 5 लाख रुपये की सहायता देने के निर्देश दिए। श्री बघेल ने पुलिस अधिकारियों को घटना की सघन जांच के निर्देश भी दिए। घटनास्थल पर आईजी श्री विवेकानंद सिन्हा, कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे, एस.पी. श्री प्रशांत ठाकुर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।




महाशिवरात्रि के अवसर पर राज्यपाल ने भगवान शिव की पूजा-अर्चना की

by

 


रायपुर राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके आज महाशिवरात्रि के अवसर पर नवागांव रायपुर स्थित श्री विश्वनाथ मंदिर पहुंची और वहां भगवान शिव की पूजा-अर्चना तथा अभिषेक कर प्रदेश के सुख-समृद्धि की कामना की।

मुख्यमंत्री बघेल ने महाशिवरात्रि पर हटकेश्वर महादेव की पूजा अर्चना कर प्रदेशवासियों के लिए सुख समृद्धि की कामना की

by

रायपुर । मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर राजधानी रायपुर के महादेव घाट स्थित हटकेश्वर महादेव मंदिर में पूजा अर्चना कर प्रदेशवासियों के लिए सुख-समृद्धि की कामना की। 
इस अवसर पर विधायक और छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल के अध्यक्ष श्री कुलदीप जुनेजा, छत्तीसगढ़ राज्य खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री गिरीश देवांगन और महापौर रायपुर श्री एजाज ढेबर भी उपस्थित थे। महाशिवरात्रि के अवसर पर मंदिर में विशेष साज-सज्जा की गई थी। मुख्यमंत्री ने मंत्रोच्चार के बीच भगवान शिव की आराधना की। इस अवसर पर उन्होंने प्रदेशवासियों को महाशिवरात्रि पर्व की बधाई और शुभकामनाएं दी।


इंग्लैंड सीरीज टी-20 विश्व कप का रिहर्सल नहीं : रोहित

by


अहमदाबाद।  भारतीय बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ ने जहां एक तरफ कहा है कि इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज आगामी टी-20 विश्व कप के लिए सही टीम संयोजन ढूंढने का एक शानदार मौका है तो वहीं छोटे प्रारूप में भारतीय उप कप्तान रोहित शर्मा का कहना है कि यह सीरीज भारत की मेजबानी में अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी-20 विश्व कप के लिए रिहर्सल नहीं है।

रोहित ने बुधवार को वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ' यदि आप मौजूदा समय पर ध्यान केंद्रित करेंगे तो भविष्य उज्जवल होगा। ' उन्होंने कहा कि यह सीरीज आगामी टी-20 विश्व कप (Ind vs Eng T-20) के लिए रिहर्सल के तौर पर नहीं देखी जानी चाहिए।

उन्होंने कहा, ' आप भारत और अपने देश के लिए खेल रहे हैं और यह कोई रिहर्सल नहीं है। इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है कि आप किस विपक्षी के खिलाफ खेल रहे हैं।

आपने नेशनल जर्सी पहन रखी है और टीम के लिए महत्वपूर्ण है कि वह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करे और जीत हासिल करे। यदि आप वर्तमान पर ध्यान लगाएंगे तभी भविष्य उज्जवल होगा। '


accident: भीषण सड़क हादसा स्कॉर्पियो सवार नौ लोगों की मृत्यु, तीन घायल

by

 आगरा। उत्तर प्रदेश में आगरा जिले के एत्माद्दौला क्षेत्र में आज सुबह हुए भीषण सड़क हादसे में स्कॉर्पियो वाहन सवार नौ लोगों की मृत्यु हो गई जबकि अन्य तीन घायल हो गये। पुलिस अधीक्षक (नगर) बोत्रे रोहन प्रमोद ने यहां यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि दिल्ली-कानपुर हाईवे पर बृहस्पतिवार सुबह टूंडला की ओर से तेज रफ्तार स्कॉर्पियो कार मथुरा की ओर जा रही थी। उन्होंने बताया कि एत्माद्दौला इलाके में तेज रफ्तार स्कॉर्पियो डिवाइडर तोड़ते हुए दूसरी दिशा में चली गई और आगरा के रामबाग की ओर से आ रहे कंटेनर से जा टकराई।

उन्होंने बताया टक्कर इतनी भीषण थी कि आठ लोगों की मृत्यु मौके पर ही मृत्यु हो गई जबकि चार लोग घायल हो गए। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया,जहां एक घायल की मृत्यु हो गई। स्कॉर्पियो में 12 लोग सवार थे। सभी लोग (बिहार) के गया जिले के रहने वाले हैं।

उन्होंने बताया कि हादसे में घायल सुजीत,सूरज देव और छोटू कुमार को एसएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती करा दिया गया है। उन्होंने बताया कि हादसा इतना भीषण था कि करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद स्कॉर्पियो में फंसे लोगों को निकला जा सका।

उन्होंने बताया कि मृतकों में गुड्डू कुमार पुत्र शिवनंदन दास निवासी फुलवरिया, जिला गया बिहार के अलावा बबलू प्रजापति,विकास कुमार ,राजेश नगेंद्र कुमार सुरेंद्र कुमार, अमन, विपिन और स्कार्पियों चालक अनिल शामिल हैं। श्री प्रमोद ने बताया कि शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए गये हैं।

Top Ad 728x90