Your Ads Here

 मंत्री पद के लिए प्रदेश कांग्रेस में सिर फुटौव्वल के हालात - सांसद दिनेश


  •   किसानों को मुआवजे के लिए अतिशीघ्र धरना प्रदर्शन की चेतावनी
जगदलपुर । बस्तर सांसद दिनेश कश्यप ने कहा कि प्रदेश में सरकार बने दस दिन नहीं हुए और छत्तीसगढ़ व मध्यप्रदेश में मंत्री पद के बंटवारे को लेकर परस्पर खींचतान, नाराजगी व व वादविवाद सार्वजनिक हो गए हैं। पदों के बंटवारे को लेकर कांग्रेस स्वयं बिखर गयी है और सिर फुटौव्वल के हालात बनते जा रहे हैं। यदि कांग्रेस केन्द्र में चुनकर आ गयी तो संसद कुश्ती और महासंग्राम का अखाड़ा बन जाएगी। कांग्रेस के लोक लुभावन वायदों पर चुटकी लेते हुए उन्होंने कहा कि मुंगेरी लाल के हसीन सपनों की तरह कांग्रेस ने मनमानी वायदे कर दिए हैं, अब अपने वायदों में कितना खरा उतरती है यह देखना बाकी है। दरअसल कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ की जनता को झूठे वायदों से भ्रमित कर विधानसभा चुनाव में वोट हासिल किया है, किंतु लोकसभा में परिणाम सर्वथा भिन्न होंगे, क्योंकि तब तक जनता कांग्रेस के आचरण को काफी हद तक पहचान चुकी होगी। वैसे भी देश के कुशल संचालन की जो प्रतिभा, कुशाग्रता व जनता के नब्ज पकडऩे की कला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी में है, उस मायने में राहुल गांधी परिपच्ता से कोसों दूर हैं।
उन्होंने कहा कि बस्तर में अल्प वर्षा से मरहान एवं टिकरा धान की फसल को काफी नुकसान पहुंचा है। मौसम की बेरूखी से पीडि़त किसानों को राज्य सरकार तत्काल मुआवजा प्रदान करे, अन्यथा अतिशीघ्र ही भाजपा प्रत्येक ब्लाक व तहसील मुख्यालयों में धरना प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपेगी। श्री कश्यप ने कहा कि जीएसटी एवं ईवे बिलिंग के नाम पर विक्रय कर विभाग द्वारा व्यापारियों से जबरिया वसूली की शिकायतें मिली हैं। उन्होंने विक्रय कर अधिकारियों को चेताया है कि वे व्यापारियों से डरा धमकाकर वसूली बंद करें अन्यथा उनके विरूद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। व्यापारियों को परेशान करना बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जीएसटी के प्रावधानों को लचीला करने वे प्रधानमंत्री नरेंंद्र मोदी से चर्चा करेंगे। 

No comments

Powered by Blogger.