मंगलवार, 2 जून 2020

विराट ने ओमनाथ सूद क्रिकेट में 80 गेंदों पर जड़ा था शतक


नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कप्तान और मौजूदा रन मशीन विराट कोहली ने अपनी अद्भुत प्रतिभा का लोहा क्लब क्रिकेट के समय ही मनवा लिया था जब मात्र 16 साल की उम्र में उन्होंने अखिल भारतीय ओमनाथ सूद मेमोरियल क्रिकेट टूर्नामेंट में 80 गेंदों पर शतक जड़ दिया था। टूर्नामेंट के आयोजन सचिव प्रमोद सूद ने बताया कि वर्ष 2005 में अखिल भारतीय ओमनाथ सूद मेंमोरियल क्रिकेट टूर्नामेंट का 15वां संस्करण आयोजित हुआ। विराट ने आठ अप्रैल को विद्या जैन क्रिकेट अकादमी की ओर से खेलते हुए श्री गुरु गोबिंद सिंह कॉलेज मैदान पर मालवीय क्रिकेट क्लब के खिलाफ 80 गेंदों पर तेज-तर्रार शतक जड़ा। विराट ने 88 गेंदों पर 13 चौकों और दो छक्कों की मदद से नाबाद 113 रन की मैच विजयी पारी खेली जिसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया। विराट को मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार ओमनाथ सूद के छोटे पुत्र चन्द्र मोहन सूद ने प्रदान किया। उस समय विराट की उम्र 16 साल पांच महीने थी।
विराट ने आगे चलकर भारत को अपनी कप्तानी में अंडर-19 विश्व कप का खिताब दिलाया। विराट फिर भारतीय टीम का हिस्सा बने और आज उन्हें दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक माना जाता है। वह तीनों फॉर्मेट में भारतीय टीम के कप्तान हैं और अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में लगभग 22 हजार रन तथा 70 शतक बना चुके हैं। 15वें अखिल भारतीय ओमनाथ सूद मेमोरियल क्रिकेट टूर्नामेंट का खिताब इंडियन एयरलाइंस ने जीता था। मैन ऑफ द मैच रजत भाटिया के शानदार हरफनमौला खेल (तीन विकेट और अविजित 81 रन ) की बदौलत इंडियन एयरलाइंस ने फाइनल में राजस्थान कोल्ट्स को छह विकेट से हराकर न केवल लगातार दूसरे वर्ष बल्कि चार वर्षों में तीसरी बार इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट पर कब्जा किया। 2005 के वर्ष में कुल 22 टीमों ने भाग लिया था।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90