मंगलवार, 14 अप्रैल 2020

विराट की आग और पुजारा के धैर्य को काबू करना होगा:लियोन

मेलबोर्न। ऑस्ट्रेलिया के शीर्ष ऑफ स्पिनर नाथन लियोन ने कहा है कि विश्व की नंबर एक टीम भारत के साथ इस साल के आखिर में होने वाली टेस्ट सीरीज जीतने के लिए उनकी टीम को भारतीय कप्तान विराट कोहली की आग और उनके विश्वसनीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा के धैर्य पर काबू पाना होगा। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच इस साल के अंत में टेस्ट सीरीज होनी है। इससे पहले 2018-19 में विश्व की नंबर एक टीम भारत ने ऑस्ट्रेलिया को उसी की जमीन पर पहली बार टेस्ट सीरीज में पराजित किया था। भारत ने यह सीरीज 2-1 से जीती थी। लियोन ने अब तक 96 टेस्ट मैच खेले हैं और टेस्ट मैचों का शतक पूरा करने की दहलीज पर हैं। वह अब तक 396 विकेट ले चुके हैं और भारत के खिलाफ सीरीज के दौरान यह शतक पूरा कर सकते हैं।ऑफ स्पिनर ने कहा, "भारतीय कप्तान दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं और वह किसी भी परिस्थिति में खुद को ढाल सकते हैं। स्टेडियम में चाहे दर्शक हों या नहीं, इसका विराट पर कोई असर नहीं पड़ता। वह सुपरस्टार बल्लेबाज हैं और हमें उनकी आक्रामकता को काबू करना होगा। पुजारा को लेकर लियोन ने कहा, "मेरे ख्याल से हमें पुजारा के धैर्य पर काबू पाना होगा। वह काफी शानदार बल्लेबाज हैं। हालांकि विराट और अजिंक्या रहाणे पर भी ध्यान देने की जरुरत है। लेकिन पुजारा दीवार की तरह खड़े हो जाते हैं। उन्होंने आखिरी बार यहां काफी शानदार प्रदर्शन किया था। उन्हें पता है कि उन्हें किस तरह खेलना है। शीर्ष स्तर पर खेलने के लिए आपको भाग्य की भी जरुरत पड़ती है और उनके पास यह है।
पुजारा ने पिछली सीरीज में एडिलेड, मेलबोर्न और सिडनी में तीन शतक बनाये थे और भारत की जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। उन्होंने कहा, "पुजारा काफी अच्छे शॉट खेलते हैं और यह देखकर अच्छा लगता है लेकिन हमें इस सीरीज के लिए पुजारा को लेकर कुछ नयी योजना तैयार करनी होगी। जैसा कि मैंने कहा कि वह सधी हुई बल्लेबाजी करते हैं और हमें उनके धैर्य पर काबू पाना होगा। लियोन ने कहा, "मैं भारत के खिलाफ खेलने को लेकर उत्सुक हूं। एशेज के बाद यह दूसरी बड़ी सीरीज है। भारत विश्व की बेहतरीन टीमों में से एक है। हालांकि दर्शकों के साथ या उनके बिना खेलना यह हमारे हाथ में नहीं है। हमें मेडिकल टीम की सलाह पर चलना होगा। भारत के खिलाफ एक बार फिर खेलना हमारे लिए बेहतर अवसर है। उन्होंने पिछली बार शानदार खेल का प्रदर्शन किया लेकिन हम इस बार पहले ज्यादा मजबूत हैं।
कोरोना वायरस के कारण ऑस्ट्रेलिया का बंगलादेश दौरा स्थगित किया गया था। इस पर दुख व्यक्त करते हुए लियोन ने कहा, "जाहिर है कि बंगलादेश के खिलाफ नहीं खेलने से दुख हुआ। यह टीम के लिए एक चुनौती थी। इस दौरे में मुझे निजी तौर पर चुनौती मिलती और मैं क्रिकेट का आनंद लेता। मुझे भरोसा है कि आईसीसी और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट को दोबारा शुरु करने के लिए हरसंभव कोशिश करेंगे। कोरोना वायरस के कारण क्रिकेट गतिविधियां ठप्प होने से विश्व टेस्ट चैंपियनशिप पर भी प्रभाव पड़ा है। इस पर उन्होंने कहा, "मेरे ख्याल से यह जरुरी है कि दो शीर्ष टीमें टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलें और इसे पूरा करें। लियोन ने कहा, "मैं चाहता हूं कि ऑस्ट्रेलिया फाइनल में जाए और मुझे लगता है कि हम सही दिशा में जा रहे हैं। हमारी टीम में कई युवा खिलाड़ी हैं लेकिन हम कुछ विशेष करेंगे इसका मुझे भरोसा है। 

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Top Ad 728x90