बुधवार, 4 मार्च 2020

उत्तर पूर्वी दिल्ली के हिंसा पीडि़तों से मिले राहुल

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को उत्तर पूर्वी दिल्ली के बृजपुरी इलाके का दौरा किया और हाल में हुई हिंसा के पीडि़तों से मिलकर उनकी तकलीफ की जानकारी ली। गांधी पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं के साथ हिंसा से बृजपुरी इलाके पहुंचे और हिंसा में पीडि़तों के जलाए गये घरों, स्कूलों, दुकान आदि को देखा। क्षेत्र में आगजनी के कारण ध्वस्त हुए एक स्कूल की इमारत की हालत देखते हुए गांधी ने भावुक होकर कहा "यह स्कूल दिल्ली का भविष्य है और नफरत तथा हिंसा ने इसे बर्बाद कर दिया है। स्कूलों में देश का भविष्य है लेकिन हिंसा ग्रस्त इलाकों में स्कूलों को नफरत और हिंसा ने जला दिया है। इस हिंसा से भारत माता का हित नहीं हो सकता इसके लिए सबको मिलकर रहना और काम करना है। उन्हें बताया गया कि इस स्कूल का इस्तेमाल हिंसा को भड़काने के लिए किया गया और सौहाद्र्र बिगाडऩे में जुटे हजारों दंगाईयों ने इस स्कूल में कई घंटों तक कब्जा किया और हिंसा को अंजाम दिया। दंगाईयों ने स्कूल को भी तहस नहस कर दिया और उसके कई कमरों को आग के हवाले कर दिया था। गांधी ने कहा "राजधानी में हुई हिंसा से दुनिया में हिंदुस्तान की छवि खराब हुई है। हिंदुस्तान को बांटा जा रहा है लेकिन इसे नफरत की आग में धकेलने वालों को समझ लेना चाहिए कि देश को मिलकर ही आगे बढ़ाया जा सकता है क्योंकि नफरत तथा हिंसा से देश प्रगति नहीं कर सकता। हिंसा और नफरत बांटती है और यह प्रगति के दुश्मन हैं।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Top Ad 728x90