मंगलवार, 17 मार्च 2020

तमिल सांसदों को अपनी भाषा में सवाल नहीं पूछने देने पर राहुल ने की आलोचना

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला द्वारा तमिलनाडु के सांसदों को अपनी भाषा मे सवाल पूछने देने की अनुमति नहीं देने की आलोचना करते हुए कहा कि यह लोकतांत्रिक अधिकारों का उल्लंघन है। श्री गांधी ने पत्रकारों से कहा, " सोमवार को उन्होंने उन 50 लोगों के बारे में सवाल पूछा था जिन्होंने बैंकों के लोन नहीं लौटाए तो उसका जवाब नहीं दिया गया। मैंने पूरक प्रश्न पूछना चाहा तो इसकी अनुमति नहीं दी गयी।  उन्होंने कहा , आज तमिलनाडु के सांसदों ने तमिल भाषा मे सवाल पूछना चाहा तो अध्यक्ष की ओर से अनुमति नहीं दी गई। सांसदों को हक़ है कि वे अपनी भाषा में अपनी बात कहें लेकिन उन्हें अनुमति नहीं दी गई। यह उनके लोकतांत्रिक अधिकारों का उल्लंघन है। मोदी सरकार में केवल एकतरफा संवाद चल रहा है। हम लोग कुछ पूछ नहीं सकते।"

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90