Your Ads Here

2017-18 में 61 लोगों ने आय 100 करोड़ से अधिक बताई


नई दिल्ली  । आपको जानकर आश्चर्य होगा कि अनगिनत अरबपतियों वाले देश भारत में आकलन वर्ष, 2017-18 में महज 61 लोगों ने ही अपनी आय 100 करोड़ रुपये से अधिक होने की घोषणा की है। हालांकि, यह संख्या इसके पिछले साल की तुलना में अधिक है, क्योंकि तब 38 लोगों ने ही अपनी आय 100 करोड़ रुपये से अधिक बताई थी। यह जानकारी केंद्रीय केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री पोन राधाकृष्णन ने शुक्रवार को लोकसभा में एक सवाल के जवाब में दी।
आयकर आकलन वर्ष 2014-15 के दौरान अपने आयकर रिटर्न में 24 लोगों ने सालाना आय 100 करोड़ रुपये से अधिक बताई थी, तब से इस संख्या में लगातार बढ़ोतरी जारी है। मंत्री ने यह भी कहा कि किसी व्यक्ति को अरबपति की श्रेणी में रखने के लिए कोई आधिकारिक परिभाषा नहीं है।
एक अन्य सवाल के जवाब में केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ला ने कहा कि केंद्र सरकार बेनामी संपत्ति लेनदेन अधिनियम के तहत कार्रवाई कर रही है और एजेंसियों द्वारा अब तक 6,900 करोड़ रुपये की संपत्तियों को कुर्क किया गया है।
मंत्री ने कहा, आयकर अधिकारी दिसंबर 2018 तक 2,000 से अधिक बेनामी लेनदेन की पहचान कर चुके हैं और इनमें बैंक खाते, जमीनें, फ्लैट और जेवरात शामिल हैं। उन्होंने कहा कि 1,800 से अधिक मामलों में संपत्तियों की आरंभिक कुर्की की जा चुकी है। 

No comments

Powered by Blogger.