अस्थमा के मरीज को सर्दियों में चाहिए स्पेशल केयर



सर्दी का मौसम आते ही शरीर को कई बीमारियां घेर लेती हैं जैसी कि सर्दी-जुकाम और बुखार। वहीं, इस मौसम में अस्थमा के मरीजों की परेशानी भी बढ़ जाती है। अस्थमा होने पर व्यक्ति को सांस लेने में तकलीफ होती है। विशेषज्ञ के अनुसार सर्दियों में श्वास नलियां सिकुड़ने लगती है और कफ भी ज्यादा बनता है इसलिए अस्थमा की समस्या सर्दियों में ज्यादा बढ़ जाती है। एेसे में इस मौसम में अस्थमा के मरीजों को स्पेशल केयर की जरूरत होती है।

अस्थमा के कारण

सर्दी फ्लू
धूल और प्रदूषण
शराब व धूम्रपान
अधिक दवाइयों का सेवन
अधिक व्यायाम
मौसम में बदलाव

बरतें ये सावधानियां

हाथ जरुर धोएं
जब भी बाहर से आएं तो अपने हाथ अच्छे से जरूर धोएं। इससे हाथों में लगे धूल-मिट्टी कण और वायरस मुंह तक नहीं पहुंचेंगे।

गर्म कपड़े
पूरी तरह गर्म कपड़ों से खुद को ढककर रखें। अपना इन्हेलर हमेशा पास रखें।

आग के पास ज्‍यादा न बैठे
आग की तपन ठंड को शरीर से दूर रखती है लेकिन जलती हुई लकड़ी का धुंआ अस्‍थमा मरीजों के लिए घातक साबित हो सकता है।
खानपान
ठंड में खाने में तरल पदार्थ का सेवन अधिक करें। घर पर बना खाना ही खाएं। डाइट में ताजे फल और सब्जियां शामिल करें।


प्रदूषण में रखें ख्‍याल

बदलते प्रदूषण में अस्थमा के मरीज घर से मास्क लगा कर ही निकलें। अगर आप रोजाना वॉक करते है तो धूप निकलने के बाद ही जाएं। दरअसल, प्रदूषण की वजह से रात के वातावरण में जमा धुआ सुबह की धुंध में मिल कर स्मौग बना देता है।

स्‍टीम

सोने से पहले स्टीम लें ताकि दिनभर की गंदगी फेफड़ों से निकल जाए।

अस्थमा के घरेलू उपाय

आंवला

अस्थमा मरीज के लिए आंवले का सेवन भी बहुत फायदेमंद है। एक चम्मच आंवला पाउडर को शहर में मिलाकर खाएं।

मेथी दाना और शहद

एक लीटर पानी में एक चम्मच मेथी दाना डालकर उबाल लें। इसे छानकर थोड़ा-सा अदरक का रस और शहद मिलाकर सेवन करें।

सरसों का तेल

सरसों के तेल में कपूर डालकर हल्का गर्म करें फिर इससे सीने और पीठ की मालिश करें। लगातार एेसा करने से जल्द आराम मिलेगा।

शहद

शुद्ध शहद सूंघने से भी अस्थमा की परेशानी दूर होती है।

इलायची

पानी में बड़ी इलायची के बीज उबालकर पीएं। इससे सांस लेने में दिक्कत नहीं होगी।