सत्ता बचाने भाजपा किसी भी हद तक ता सकती है : भूपेश बघेल


  • राज्य निर्वाचन आयोग गंभीर शिकायतों पर नहीं दे रहा ध्यान
रायपुर। 20 नवंबर को मतदान की तिथि से लेकर अब तक जितनी भी गंभीर लापरवाही सामने आई और जहां भी गड़बड़ी की आशंका ने जन्म लिया। कांग्रेस ने पूरे तथ्यों के साथ निर्वाचन आयोग में इसकी शिकायत की। गंभीर शिकायतों के बाद आयोग ने गिने-चुने शिकायतों पर कार्यवाही की। दूसरी ओर यह कहना भी गलत नहीं होगा कि राज्य की भाजपा सरकार सत्ता बचाने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रही है। कांग्रेस के लगातार पूरी स्थिति में नजर रखने के बाद भी तरह-तरह के षडय़ंत्र सामने आ रहे हैं। इस लिहाज से यह कहना गलत नहीं होगा कि सत्तासीन भाजपा को लोकतंत्र पर विश्वास नहीं रह गया है और भाजपा किसी भी हद तक जा सकती है।
उक्त आरोप प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रमुख भूपेश बघेल ने आज कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में आयोजित एक प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए लगाया। श्री बघेल ने कहा कि मतदान की तिथि से लेकर आज तक एक-एक करते हुए कई तरह की गंभीर गड़बडिय़ां सामने आ चुकी है। कांग्रेस लगातार हो रही गड़बडिय़ों को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग में शिकायत कर चुकी है, मगर आयोग की कार्यप्रणाली भी किसी से छिपी नहीं है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के मामले में जब वे स्वयं और कांग्रेस के पदाधिकारी आयोग के कार्यालय में शिकायत करने पहुंचे तो उनकी शिकायतों को आयोग नजरअंदाज करता रहा। अमित शाह के खिलाफ मामला दर्ज करने के बजाए उनके खिलाफ ही एफआईआर दर्ज कर दिया गया। इसके बाद राज्य भर से तरह-तरह की गड़बडिय़ां और शिकायतें आती रहीं। धमतरी प्रकरण के अलावा बालोद और दुर्ग में स्ट्रांग रूम में लगातार बिजली गुल होने का मामला हो या फिर बेमेतरा का। यहां तो जिस अधिकारी को स्ट्रांग रूम की सुरक्षा की जिम्मेदारी दी गई वही लैपटॉप लेकर स्ट्रांग रूम में प्रवेश कर गया। इन मामलों में जब भी कांग्रेस ने शिकायत की और कारण जानना चाहा तो आयोग जवाब देने से बचता रहा, आखिर क्यों? श्री बघेल ने कहा कि मांगे जाने के बाद भी आज तक आयोग से अधिकृत मतदान के आंकड़े उपलब्ध नहीं हो सका है। उन्होंने कहा कि भाजपा अपनी सत्ता बचाने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रही है। श्री बघेल ने कहा कि रिजर्व में रखे गए ईवीएम मशीनें भी स्ट्रांग रूम में रखी गई है।

भाजपा लगातार कर रही षडय़ंत्र :

श्री बघेल ने कहा कि भाजपा लगातार षडय़ंत्र रच रही है और कांग्रेस की सजगता से लगातार षडय़ंत्र उजागर हो रहे हैं। भाजपा अपनी सत्ता बचाने के लिए कुछ भी कर सकतमांगे जाने के बाद भीी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पदाधिकारी के नाम पर लेटरपेड छपवाने, फर्जी हस्ताक्षर जारी करने, साहू समाज को भड़काने वीडियो वायरल करने जैसे कई षडय़ंत्र उजागर हो चुके हैं। भाजपा के पास भ्रष्टाचार की अकूत संपत्ति है, इसी के दम पर यह सब षडय़ंत्र रचा जा रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा को लोकतंत्र पर विश्वास नहीं रहा है। भाजपा दंगा, हत्या और नरसंहार भी करवा सकती है और किसी भी स्तर पर जा सकती है। प्रजातंत्र मजबूत रहे इसके लिए हम सभी को सजग रहना होगा।
पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए श्री बघेल ने कहा कि आयोग को अब तक जितनी भी शिकायतें की गई है, उनमें से कुछ में कार्यवाही की गई है। लेकिन गंभीर शिकायतों में जो कार्यवाही होनी चाहिए, वो अब तक नहीं हो सकी है। उन्होंने कहा कि धनोरा में जिस तरह से भारी मात्रा में शराब पकड़ाई, उस पर अभी तक मामला दर्ज नहीं हो सका है, जबकि नियमानुसार अब तक दोषी व्यक्ति पर एफआईआर दर्ज हो जानी चाहिए थी। इन सभी बातों से यह कहना भी गलत नहीं है कि भाजपा चुनाव परिणाम को प्रभावित करने कुछ भी कर सकती है।