हँगामे के कारण लोकसभा की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित


नयी दिल्ली । अलग-अलग मुद्दों पर विभिन्न दलों के हँगामे के कारण लोकसभा की कार्यवाही आज लगातार आठवें दिन बाधित रही और एक बार के स्थगन के बाद दिन भर के लिए स्थगित कर दी गयी। अब सदन की अगली बैठक गुरुवार 27 दिसंबर को होगी।
प्रश्नकाल के दौरान एक बार कार्यवाही स्थगित होने के बाद दोपहर 12 बजे जब दोबारा शुरू हुई तो कांग्रेस, अन्नाद्रमुक और तेलुगुदेशम् पार्टी (तेदेपा) के कई सदस्य अपनी-अपनी माँगों को लेकर अध्यक्ष के आसन के समीप आ गये तथा नारेबाजी करने लगे। उन्होंने हाथों में अपनी माँगे लिखी तख्तियाँ और पोस्टर भी लिये हुये थे। कांग्रेस के सदस्य राफेल विमान सौदे की संयुक्त संसदीय समिति के गठन की माँग कर रहे हैं। तेदेपा सदस्य आँध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की माँग कर रहे हैं जबकि अन्नाद्रमुक के सदस्य कावेरी नदी पर बाँध निर्माण का विरोध कर रहे हैं।
हँगामे के बीच ही अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने जरूरी कागजात सदन के पटल पर रखवाये। इसके बाद संसदीय कार्य राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि कई सदस्यों ने क्रिसमस के मौके पर 24 और 26 दिसंबर को भी सदन की बैठक नहीं करने का अनुरोध किया है। इसके बाद अध्यक्ष ने सभा की सहमति से 24 और 26 दिसंबर को सदन में अवकाश की घोषणा की।
श्रीमती महाजन ने हँगामे के बीच शून्य काल शुरू किया और कुछ सदस्यों ने अपनी बात भी रखी। लेकिन, हँगामा बढ़ने के कारण 12.15 बजे उन्होंने सदन की कार्यवाही गुरुवार 27 दिसंबर सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।