Your Ads Here

हर 10 साल बाद डाइट में करें जरूरी बदलाव, रहेंगे हमेशा हैल्दी


अच्छी सेहत के लिए पौष्टिक आहार का सेवन बहुत जरूरी है लेकिन उम्र के हिसाब से इसकी जरूरत बदलती रहती है। छोटे बच्चे, युवा और बुजुर्ग की डाइट में बहुत फर्क होता है जरूरी नहीं कि जो आहार एक व्यक्ति के लिए सही हैं दूसरे को भी उससे फायदा मिलेगा क्योंकि जिस तरह से उम्र बढती जाती है शरीरिक जरूरतों में भी बदलाव होता रहता है। आप भी लगातार कई सालों से एक ही तरह की डाइट ले रहे हैं तो सही पोषण नहीं मिल पाता। आइए जानें,20 की उम्र के बाद किस तरह 10 साल के अंतराल में कैसे बदले अपना डाइट प्लान।

 20 की उम्र में डाइट

बच्चे की हड्डियों का विकास 20 साल की उम्र में भी होती रहता है। इस उम्र में उसकी मांसपेशियों और हड्डियों के विकास के लिए प्रोटीन,कैल्शियम, आयरन, विटामिन, कार्बोहाइड्रेट्स आदि युक्त खाद्य पदार्थ प्रचुर मात्रा में शामिल होने जरूरी हैं। इसके अलावा इस उम्र में हॉर्मोंस में बदलाव आता है, इन्हें बैलेंस करने के लिए हरी सब्जियां, पनीर, दूध, अंडे, दही, फल, सूप, जूस, अखरोट, ब्लूबेरी आदि का सेवन जरूर करें।

30 की उम्र में डाइट

इस उम्र में शरीर में कई तरह के बदलाव आने लगते हैं। ऐसे में शारीरिक कमजोरी को दूर करने के लिए डाइट का खास ख्याल रखने की बहुत जरूरत होती है। इस समय एनिमिया से बचने के लिए फोलिक एसिड, पोषक तत्वों की पूर्ति के लिए विटामिन ई, एंटीऑक्सीडेंट्स, लो फैट और हाई फाइबर युक्त आहार को अपनी डाइट में शामिल करना जरूरी है। इसके साथ ही फिट रहने के लिए नारियल तेल, जैतून का तेल, हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन करें।
40 की उम्र में डाइट

40 की उम्र में शारीरिक कमजोरी महसूस होने लगती है। इस समय बीमारियां लगने का खतरा बढ़ जाता है। प्रतिरोधक शक्ति को मजबूत बनाने के लिए तले,भूने और मसालेदार खाने से परहेज करने इसके साथ ही रोजाना ब्रोकली खाएं। सब्जियों में पालक, मटर, प्याज, लहसुन, अदरक, गोभी, शिमला मिर्च, फलियां जरूर शामिल करें। इसके अलावा हल्दी, जैतून का तेल भी जरूर खाएं।

50 की उम्र में डाइट

यह बात बिल्कुल सही है कि अगर आप खुद स्वस्थ होंगे तभी पारिवारिक सदस्यों की सेहत की देखभाल कर सकेगे। इस उम्र में अपने स्वास्थ्य को सही रखने के लिए विटामिन बी, जिंक और प्रोटीन युक्त आहार को शामिल करें। बैलेंस डाइट का सेवन करना बहुत जरूरी है, इसमें अंडे, ड्राई फ्रूट्स आदि शामिल कर सकते हैं। इसके साथ ही योगा, सैर को भी अपने लाइफस्टाइल का हिस्सा बनाएं।

60 की उम्र डाइट

इस उम्र में 10 साल पहले वाला डाइट प्लान बदल देना चाहिए क्योंकि इस समय मांसपेशियां कमजोर होने लगती हैं। इसके अलावा और भी कई तरह की कमजोरी आनी शुरू हो जाती है। इस समय प्रोटीन युक्त आहार जैसे बीन्स, ड्राई फ्रूट्स, डेयरी प्रॉडक्ट्स, दूध, अंडे, टोफू आदि खाना चाहिए। इस बात का ख्याल रखें कि एक ही बार पेट भर कर खाना न खाएं, थोड़े-थोड़े अंतराल में कुछ न कुछ जरूर खाते रहें। 

No comments

Powered by Blogger.