कड़ी सुरक्षा के बीच मध्यप्रदेश में कल मतदान


भोपाल । मध्यप्रदेश के सभी 230 विधानसभा क्षेत्रों पर कल 28 नवंबर को कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान होगा।
कल होने वाले मतदान के लिए निर्वाचन आयोग की सभी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। मतदान सुबह आठ बजे से पांच बजे तक होगा और पांच करोड़ तीन लाख से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग कर सकेंगे। नक्सल प्रभावित बालाघाट के तीन इलाकों में मतदान सुबह सात बजे से दोपहर तीन बजे तक चलेगा।
राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी बी एल कांताराव ने बताया कि निर्वाचन आयोग राज्य में स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण ढंग से मतदान कराने के लिए प्रतिबद्ध है और इसके लिए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं पूरी की जा चुकी हैं। मतदान केंद्रों तक मतदान दल पहुंचाने का कार्य शुरू हो गया है। राज्य के पांच करोड़, तीन लाख 94 हजार 086 मतदाता इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के जरिए अपना मताधिकार का उपयोग कर सकेंगे। ये मतदाता चुनाव मैदान में मौजूदा 2907 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला करेंगे। मतदाताओं में दो करोड़ 62 लाख 56 हजार 157 पुरूष और दो करोड़ 40 लाख 76 हजार 693 महिलाएं शामिल हैं। सर्विस वोटर की संख्या 59 हजार 826 है और एक हजार से अधिक मतदाता थर्ड जेंडर के हैं।
आधिकारिक जानकारी के मुताबिक चुनाव के लिए सभी 65 हजार 367 मतदान केन्द्रों पर ईवीएम के साथ वीवीपैट का उपयोग होगा। मशीन खराब होने पर उसे तुरन्त बदलने के लिये सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट के पास मशीनें रिजर्व भी रखी गई हैं। वास्तविक मतदान कराने के पूर्व नोटा सहित सभी अभ्यर्थी के समक्ष का बटन दबाकर मॉकपोल किया जायेगा। मॉकपोल की स्लिप को काले लिफाफे में सील कर प्लास्टिक बॉक्स में रखकर पिंक पेपर सील कर मॉकपोल सर्टिफिकेट जारी होगा।
सभी केंद्रो पर तीन लाख 782 मतदान कर्मचारी लगाये गए हैं। नियुक्त किये गये कर्मचारियों में दो लाख 54 हजार 878 पुरूष और 45 हजार 904 महिला कर्मचारी हैं। इसमें से तीन हजार 46 मतदान केन्द्र महिला कर्मियों द्वारा संचालित किये जायेंगे, जबकि 160 पीडब्ल्यूडी बूथ दिव्यांग कर्मचारियों द्वारा संचालित किये जायेंगे।
संवेदनशील मतदान केन्द्रों पर वेबकास्टिंग एवं सीसीटीवी की व्यवस्था की गई है। उल्लेखनीय है कि वेबकास्टिंग के माध्यम से 6 हजार 655 मतदान केन्द्रों पर लाइव प्रसारण और 6 हजार 400 मतदान केन्द्रों पर सीसीटीवी कैमरा से विशेष निगरानी की व्यवस्था की गई है। इस कार्य के लिये प्रत्येक मतदान केन्द्र पर एक अतिरिक्त व्यक्ति भी नियुक्त किया गया है।
प्रदेश में निष्पक्ष और स्वतंत्र चुनाव के लिये 12 हजार 363 माईक्रो आब्जर्वर की तैनाती मतदान केन्द्रों पर की गई है, जिसमें 12 हजार 211 पुरूष एवं 152 महिला माईक्रो आब्जर्वर हैं।
निर्वाचन आयोग ने शत-प्रतिशत मतदान सुनिश्चित करने के लिए कई प्रयास किए हैं। स्थान-स्थान पर एलईडी स्क्रीन लगाई गई हैं। इसके अलावा सार्वजनिक स्थानों पर की जा रही गतिविधियों और होर्डिंग के माध्यम से भी मतदाताओं को जागरुक किया जा रहा है।