शुक्रवार, 26 जून 2020

जैविक खेती की दिशा में बड़ी भूमिका निभाएंगे गौठान : ताम्रध्वज साहू

 

जनप्रतिनिधियों की सतत भागीदारी और मानिटरिंग से सफल होगी नरवा, गरूवा, घुरूवा, बाड़ी योजना

रायपुर। जनभागीदारी से जिस तरह से गौठानों में अच्छा काम हो रहा है, इससे निश्चित ही जैविक खेती की दिशा में गौठान बड़ी भूमिका निभाएंगे। यह बात जिला पंचायत दुर्ग की सामान्य सभा की बैठक में गृह एवं लोक निर्माण मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने कही। उन्होंने कहा कि भविष्य जैविक खेती का है, इसके लिए संसाधन कैसे आएंगे, इस दिशा में छत्तीसगढ़ सरकार ने तैयारी शुरू कर दी है और शीघ्र ही गोधन न्याय योजना के माध्यम से गोबर खरीदी प्रारंभ की जाएगी। इस योजना के तहत गोबर से जैविक खाद बनाने की दिशा में लोग कार्य करेंगे। उन्होंने कहा कि जैविक खेती के लिए बड़े पैमाने पर कंपोस्ट खाद की जरूरत होगी।

मंत्री श्री साहू ने कहा कि गौठान समितियों को मजबूत करने दस हजार रुपए की राशि भी प्रदान कर रहे हैं। गौठान समितियों के माध्यम से लोगों के अनुभव का पूरा इस्तेमाल हो सकेगा। रोका-छेका हमारी परंपरा है, इसे बड़ी उत्साह से इस बार मनाया जा रहा है। इसका उद्देश्य मवेशियों की सुरक्षा और खरीफ फसलों की रक्षा करना है। पशुधन और खेत हमारी सबसे बड़ी संपदा है। गौठान समितियों के गठन से पशुधन विकास के साथ ही ग्रामीणों के आजीविका केंद्र भी बन सके, इस दिशा में भी काम हो रहा है। उन्होंने बैठक में सभी विभागों की गतिविधियों की जानकारी ली। उन्होंने कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए फिजिकल डिस्टेंसिंग पर भी जोर दिया तथा कोरोना एवं मौसमी बीमारियों से बचाव के लिए नियमित रूप से मानिटरिंग करने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिए। उन्होंने खरीफ फसल को देखते हुए खाद-बीज के उठाव की भी जानकारी ली और गुणवत्तायुक्त खाद-बीज का वितरण सुनिश्चित करने के निर्देश कृषि विभाग के अधिकारी को दिए। उन्होंने आनलाइन पढ़ाई, सुपोषण अभियान सहित कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी ली। बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष श्री शालिनी रिवेंद्र यादव ने भी विभिन्न विषयों पर चर्चा की। बैठक में सीईओ जिला पंचायत श्री सच्चिदानंद आलोक, जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री अशोक साहू सहित अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90