सोमवार, 29 जून 2020

कोरोना मरीजों की ठीक होने की दर बढ़कर 58.67 प्रतिशत हुई


नई दिल्ली। देश में अब तक कोरोना के ठीक हुए मामलों और सक्रिय मामलों के बीच का अंतर बढ़कर 1,11,602 हो चुका है और कोविड-19 के 3,21,722 रोगियों स्वस्थ हो गए है तथा कोरोना के ठीक होने की दर अब बढ़कर 58.67 प्रतिशत तक पहुंच चुकी है। पिछले 24 घंटे के दौरान, कुल 12,010 कोविड-19 के रोगी ठीक हो चुके हैं। वर्तमान समय में, कुल 2,10,120 सक्रिय मामले हैं और सभी सक्रिय मामले चिकित्सा निगरानी के अंतर्गत हैं। केन्द्र सरकार द्वारा राज्यों/ केंद्र शासित प्रदेशों के साथ मिलकर कोविड-19 की रोकथाम, नियंत्रण और प्रबंधन के लिए उठाए गए चरणबद्ध, समय से पूर्व और सक्रिय प्रयासों के कारण उत्साहजनक परिणाम दिखाई दे रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में सोमवार को बताया गया कि कोविड-19 का परीक्षण करने के लिए नैदानिक ??प्रयोगशालाओं के बढ़ते नेटवर्क के साथ, भारत में अब प्रयोगशालाओं की संख्या बढ़कर 1,047 हो गई हैं। इसमें सरकारी क्षेत्र के 760 और 287 निजी प्रयोगशालाएं शामिल हैं। पिछले 24 घंटे में जिन 11 प्रयोगशालाओं को शामिल किया गया है, उनमें सभी सरकार द्वारा संचालित हैं। इनमें रियल-टाइम आरटी पीसीआर आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं 567 (सरकारी: 362 , निजी: 205), ट्रुनेट आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं 393 (सरकारी: 366 , निजी: 27)और सीबी नेट आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं 87 (सरकारी: 32 , निजी: 55) हैं। कोरोना की जांच किए जा रहे नमूनों की कुल संख्या बढ़ रही है, और इसने 83,98,362 आंकड़े को छू लिया है। कल 1,70,560 नमूनों का परीक्षण किया गया ।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90