सोमवार, 11 मई 2020

केजरीवाल कोरोना मौतों के सही आंकड़े दें: विधूड़ी


नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायकों ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से राजधानी में कोरोना से हुई मौतों की सही-सही संख्या सार्वजनिक करने की मांग की है। दिल्ली में कोरोना वायरस से हुई मौतों को काफी कम बताये जाने के विपक्षी दलों के आरोपों के बीच विपक्ष के नेता रामवीर सिंह विधूड़ी की अगुवाई में सोमवार को भाजपा विधायकों ने मुख्यमंत्री से मुलाक़ात कर ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में दिल्ली में कोरोना से हुई मौतों की सही संख्या सामने लाने और. संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलों के मद्देनजर जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम, अम्बेडकर स्टेडियम तथा छत्रसाल स्टेडियम में अस्थायी अस्पताल बनाने का सुझाव भी दिया है।
प्रतिनिधिमंडल में श्री बिधूड़ी के अलावा विजेंद्र गुप्ता, मोहन सिंह बिष्ट, ओ पी शर्मा, अनिल वाजपेयी, अभय वर्मा, जितेंद्र महाजन और अजय महावर शामिल थे। ज्ञापन में राशन की दुकानों और अन्य चिन्हित केंद्रों पर 15-20 दिनों से राशन नहीं पहुंचने के कारण गरीब लोगों को हो रही दिक्कतों का भी उल्लेख है। राशन के लिए लोग दुकानों के चक्कर काट रहे हैं। विधायकों ने पेट्रोल-डीजल पर मूल्यवर्धित कर (वैट) बढ़ाने के निर्णय को गलत बताते हुए इसे वापस लेने की मांग भी की। प्रतिनिधिमंडल ने दिल्ली में शराब की दुकानें खोलने के बाद सोशल डिस्टेनसिंग नियमों के गम्भीर उल्लंघन का हवाला देते हुए कहा गया है कि इससे कोरोना के मामलों में वृद्धि हुई है। ऐसे में सरकार को अपने फैसले पर पुनर्विचार करते हुए शराब की होम डिलीवरी शुरू करानी चाहिए। इसके अलावा यह मांग भी की गई है कि सरकार तीनों निगमों को उनके बकाए का भुगतान कर दे ताकि डॉक्टरों, नर्सों, मलेरिया विभाग के कर्मचारियों, माली, सफाई कर्मचारी आदि अन्य तमाम कोरोना योद्धाओं को वेतन दिया जा सके। विधायकों ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जान गंवाने वाले दिल्ली पुलिसकर्मी अमित कुमार, एक शिक्षिका और दो सफाई कर्मचारियों के परिजनों को एक-एक करोड़ रुपये तथा उनके परिवार में एक-एक व्यक्ति को नौकरी देने की मांग भी की। उन्होंने यह सुझाव भी दिया कि एक ऐसी वेबसाइट बनाई जाए जिसके माध्यम से दिल्ली में फंसे दूसरे राज्यों के लोग रजिस्ट्रेशन करा के अपने राज्य जा सकें और दूसरे राज्यों में फंसे दिल्ली के लोग वापस आ सकें।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90