गुरुवार, 16 अप्रैल 2020

आईएमएफ ने की भारत की सराहना


वॉशिंगटन/नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने कोरोना वायरस 'कोविड 19Ó महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए भारत सरकार द्वारा देश में लॉकडाउन लागू करने के फैसले को 'विवेकपूर्णÓ बताते हुए गुरूवार को इसकी सराहना की। विश्व स्वास्थ्य संगठन के बाद आईएमएफ दूसरी शीर्ष अंतरराष्ट्रीय एजेंसी है जिसने भारत के उपायों की तारीफ की है। आईएमएफ के एशिया एवं प्रशांत विभाग के निदेशक चांग्योंग री ने कहा, "हम भारत सरकार के लॉकडाउन की पहल का स्वागत करते हैं। निश्चित रूप से इससे विकास दर में गिरावट आयेगी। लेकिन यह एक विवेकपूर्ण फैसला है।"
आईएमएफ और विश्व बैंक की ग्रीष्मकालीन बैठक में एशिया-प्रशांत क्षेत्र के आर्थिक परिदृश्य पर आयोजित संवाददाता सम्मेलन में श्री री ने कहा कि रिजर्व बैंक ने भी उचित वित्तीय उपाय किये हैं, लेकिन यदि यह संकट जल्द समाप्त नहीं होता तो और अधिक उपाय करने होंगे। भारत के पास इतनी गुंजाइश है कि वह सबसे जरूरी काम पर पहले ध्यान दे। आईएमएफ ने बैठक के पहले दिन 14 अप्रैल को जारी अपनी रिपोर्ट में कहा था कि चालू वित्त वर्ष में भारत की विकास दर 1.9 प्रतिशत रहेगी, जबकि वैश्विक विकास दर तीन फीसदी ऋणात्मक रहेगी।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Top Ad 728x90