शुक्रवार, 3 अप्रैल 2020

,

काेरोना महामारी : स्टार्टअप को देश का भविष्य बताया पीयूष ने



नयी दिल्ली ।  केंद्रीय वाणिज्‍य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने स्टार्टअप को देश का भविष्य करार देेते हुए कहा है कि काेरोना महामारी से उत्पन्न इस संकट की घड़ी में शीघ्रता से तथा सकारात्मकता के साथ आगे बढ़ने की आवश्यकता है।

श्री गोयल ने देशभर के स्टार्टअप के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संवाद करते हुए कहा कि स्टार्टअप से देश को बहुत उम्मीदें हैं और उन्हें इसका लाभ उठाते हुए सक्रियता से आगे बढ़ना चाहिए। फिलहाल देश अभूतपूर्व संकट के दौर से गुजर रहा है और इसके लिए शीघ्रता से काम करने की आवश्यकता है। उन्होंने उद्योग, विशेषकर स्टार्टअप के समक्ष आ रही कठिनाइयों पर काबू पाने के लिए सभी संबद्ध पक्षों का सहयोग मांगा।

संवाद में कोरोना महामारी और लॉकडाउन के प्रभाव का आकलन करने के लिए डेवलपर्स, अग्रणी स्टार्टअप्, एंजेल निवेशकों और अन्य सहित स्टार्ट-अप व्‍यवस्‍था के अन्य पक्षों ने हिस्सा लिया। इसमें उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग, कॉर्पोरेट कार्य मंत्रालय, भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड, नीति आयोग और सिडबी के अधिकारियों ने भी भाग लिया।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यह स्टार्टअप उद्यमियों की सकारात्मक भावना है जो वे इस अवसर पर आगे बढ़ रहे हैं और कोरोना से जुड़ी विभिन्न समस्याओं का समाधान खोजने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने एक्शन कोविड-19 टीम (एसीटी) की शुरूआत का स्वागत किया, जो 100 करोड़ रुपये का कार्यक्रम शुरू कर रही है, जिसका लक्ष्‍य भारत में कोविड-19 के आर्थिक प्रभावों का मुकाबला करने के लिए अनुदान के माध्यम से 50 से अधिक पहल करना है।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Top Ad 728x90