शुक्रवार, 6 मार्च 2020

अब तो मक्का की खेती में ही मजा आता है : नकछेड़ा राम नाईक

कांकेर। चारामा विकाखण्ड के ग्राम बागडोंगरी के किसान नकछेड़ा राम नाईक ने अपने मक्का की फसल को देखकर कर उत्साहित होते हुए कहा कि अब तो मक्का की खेती में ही मजा आता है, धान की खेती में ज्यादा फायदा नहीं है। कृषि एवं उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों के साथ कलेक्टर श्री के.एल. चौहान ने ग्राम बागडोंगरी के किसान नकछेड़ा राम नाईक द्वारा की जा रही मक्का की खेती का अवलोकन किया एवं उनके द्वारा की जा रही लाभकारी फसल की खेती की जमकर तारीफ की। किसान नकछेड़ा राम नाईक ने बताया कि उनके द्वारा पिछले वर्षो से मक्का की खेती की जा रही है, जिसमें मेहनत, लागत और पानी भी कम लगता है तथा फायदा भी ज्यादा होता है। उन्होंने बताया कि मक्का की खेती से एक एकड़ में लगभग 26 हजार रूपये की आमदनी हो जाती है। पिछले वर्ष उनके द्वारा दो एकड़ में मक्का ली गई थी, जिसे 50 हजार रूपये में बेचा गया था। उन्होंने कहा कि अब तो मक्का की खेती में ही मजा आता है। कलेक्टर श्री चौहान ने उनके द्वारा की जा रही मक्का की खेती की प्रसंशा किया तथा आसपास के किसानों को भी इसका अवलोकन कराने के लिए कृषि विभाग के उप संचालक को भी निर्देश दिये।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90