मंगलवार, 3 मार्च 2020

संसद में 'संघी-तंगी नहीं चलता, सदन सबका : अधीर

नई दिल्ली। लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने धक्का मुक्की की बात से इनंकार करते हुए कहा कि है सदन में ऐसा कुछ नहीं हुआ और आसन के बीच में आने का अधिकार सबको है। चौधरी ने संसद भवन परिसर में संवाददाताओं के सवाल पर कहा कि सदन में मंगलवार को कोई धक्का मुक्की हुई ही नहीं है। उन्होंने कहा कि सदन के बीचों बीच आने का अधिकार सभी सदस्यों को हैं और इसको लेकर सत्ता पक्ष या विपक्ष के बीच सीमा रेखा नहीं खींची जा सकती है। उन्होंने तंज किया कि इसे 'संघी और तंगीÓ के रूप में बांटा नहीं जा सकता है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में हिंसा का मुद्दा गंभीर है और इसको लेकर सदन में चर्चा होनी चाहिए लेकिन सरकार इस मुद्दे पर चर्चा कराने से भाग रही है। उन्होंने कहा कि यह मुद्दा ज्यादा देर तक टाला नहीं जा सकता और इस पर होली से पहले ही चर्चा होनी चाहिए लेकिन सरकार के पास कोई जवाब नहीं है इसलिए वह इस मुद्दे को टालना चाहती है और चर्चा से भागने का प्रयास कर रही है।
कांग्रेस नेता ने कहा कि इस मुद्दे पर वह सरकार के रवैये का विरोध करते हैं। यह अलग तरह का मुद्दा है। देश की राजधानी हिंसा में जली है और जानमाल का भारी नुकसान हुआ है। यह अत्यंत गँभीर और संवेदनशील विषय है और इसे लेकर टाल मटोल नहीं की जा सकती है। सरकार को प्राथमिकता के साथ इस पर चर्चा करानी चाहिए क्योंकि पूरा देश देख रहा है कि संसद इस पर क्या कहती है। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयुक्त द्वारा नागरिकता संशोधन कानून के संबंध में भारत के उच्चतम न्यायालय में हस्तक्षेप याचिका दाखिल किये जाने संबंधी सवाल पर उन्होंने कहा कि यह शर्मनाक स्थिति है। देश के इतिहास में पहले ऐसा कभी नही हुआ है।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Top Ad 728x90