गुरुवार, 12 मार्च 2020

आईपीएल पर संकट के बादल, अंतिम फैसला 14 मार्च को

नई दिल्ली। दुनियाभर में महामारी के रुप में फैल चुके खतरनाक कोरोना वायरस के कारण विश्व में कई टूर्नामेंटों को रद्द या स्थगित किया जा चुका है और भारत में 29 मार्च से होने वाली लोकप्रिय इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) पर खतरे के बादल मंडरा रहे हैं।
आईपीएल की संचालन परिषद की शनिवार को मुंबई में महत्वपूर्ण बैठक होगी जिसमें भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) आईपीएल के मामले पर अंतिम फैसला लेगा। आईपीएल को 29 मार्च से शुरु होना है और इसका पहला मुकाबला गत चैंपियन मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच मुंबई के वानखेडे स्टेडियम में खेला जाना है। दुनियाभर में और भारत में कोरोना के कारण कई टूर्नामेंटों के लिए स्थितियां जटिल हो चुकी हैं और उन टूर्नामेंटों को कराना बहुत मुश्किल हो गया है जिनमें भारी संख्या में दर्शक जुटते हैं। भारत में कोरोना के 60 से ज्यादा मामले हो चुके हैं और दुनियाभर में इससे मरने वालों की संख्या 4623 हो चुकी है जबकि 125,841 लोग इस वायरस की चपेट में आ चुके हैं।
मुंबई में चल रही लीजेंड्स क्रिकेट खिलाडिय़ों की रोड सेफ्टी वल्र्ड सीरीज को अब दर्शकों को बिना कराने का फैसला किया गया है। गुरुग्राम में 19 मार्च से होने वाला हीरो इंडियन ओपन गोल्फ टूर्नामेंट स्थगित कर दिया गया है जबकि दिल्ली में 24 मार्च से होने वाले इंडिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट को दर्शकों के बिना कराए जाने पर विचार चल रहा है। इस बीच उच्चतम न्यायालय ने आईपीएल को कोरोना के कारण स्थगित करने वाली याचिका पर गुरुवार को तुरंत सुनवाई करने से इंकार कर दिया। याचिकाकर्ता को कहा गया है कि वह होली के अवकाश के बाद 16 मार्च को नियमित खंडपीठ के सामने मामले को तुरंत सूचीबद्ध करने के लिए आग्रह करे।
बीसीसीआई भी आईपीएल को दर्शकों के बिना कराने की संभावना पर विचार कर रहा है। लेकिन आईपीएल टीमें टूर्नामेंट के लिए विदेशी सितारों को चाहती हैं जबकि सरकार के ताजा परामर्श के बाद यह स्थिति मुश्किल लगती है। सरकार ने सभी मौजूदा वीजा पर 15 अप्रैल तक के लिए प्रतिबंध लगा दिया है। इसमें केवल राजनयिक और रोजगार को छूट दी गयी है। इस स्थिति में विदेशी खिलाडिय़ों का 15 अप्रैल तक आईपीएल में हिस्सा लेना मुश्किल है। केंद्रीय खेल मंत्रालय ने बीसीसीआई सहित सभी राष्ट्रीय खेल महासंघों को कहा है कि वह स्वास्थ्य मंत्रालय के परामर्श का पालन करें और कोरोना के खतरे को देखते हुए ऐसे टूर्नामेंटों का आयोजन करने से बचें जहां भारी संख्या में लोग एकत्र होते हैं। 

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90