बुधवार, 12 फ़रवरी 2020

खुदरा महँगाई बढ़कर 7.59 प्रतिशत पर

नई दिल्ली। खाद्य पदार्थों की कीमतों में लगातार तीसरे महीने जारी तेज बढ़ोतरी के कारण इस साल जनवरी में खुदरा मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति यानी खुदरा महँगाई की दर बढ़कर 7.59 प्रतिशत पर पहुँच गयी। यह खुदरा महँगाई का 68 महीने का उच्चतम स्तर है। इससे ज्यादा मई 2014 के बाद से महँगाई दर इतनी ज्यादा कभी नहीं रही थी। पिछले साल जून के बाद से यह लगातार सातवाँ महीना है जब खुदरा महँगाई बढ़ी है। दिसंबर 2019 में यह 7.35 प्रतिशत और जनवरी 2019 में 1.97 प्रतिशत रही थी। केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय द्वारा जारी आँकड़ों के अनुसार, जनवरी में खाद्य पदार्थों की खुदरा महँगाई दर 13.63 प्रतिशत रही। सब्जियों, दालों, मांस-मछली और अंडों के दाम में सबसे तेज बढ़ोतरी हुई। पिछले साल जनवरी की तुलना में सब्जियों के दाम 50.19 प्रतिशत और दालों तथा इनके उत्पादों के दाम 16.71 प्रतिशत बढ़े। मांस-मछली के दाम 10.50 फीसदी और अंडे के 10.41 फीसदी बढ़े। लगातार तीसरे महीने खाद्य खुदरा महँगाई दर दहाई अंक में रही है। नवंबर 2019 में यह 10.01 प्रतिशत और दिसंबर 2019 में 14.19 प्रतिशत रही थी।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90