शनिवार, 22 फ़रवरी 2020

विलियम्सन के दम पर न्यूजीलैंड मजबूत, इशांत ने झटके 3 विकेट

वेलिंगटन। केन विलियम्सन ने 89 रन की कप्तानी की जिम्मेदारी भरी पारी खेलते हुए न्यूजीलैंड को भारत के खिलाफ पहले क्रिकेट टेस्ट मैच के दूसरे दिन शनिवार को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया जबकि तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने तीन विकेट लेकर विश्व की नंबर एक टीम भारत को मुकाबले में बनाये रखा।
भारत ने वर्षा प्रभावित पहले दिन पांच विकेट खोकर 122 रन बनाये थे और दूसरे दिन उसकी पहली पारी 165 रन पर सिमट गयी। भारत ने सुबह के सत्र में अपने पांच विकेट 43 रन जोड़कर गंवा दिए। उपकप्तान अजिंक्या रहाणे ने 46 रन बनाए जबकि न्यूजीलैंड की तरफ से टिम साउदी ने 49 रन पर चार विकेट और पदार्पण टेस्ट खेल रहे काइल जैमिसन ने 39 रन पर चार विकेट लिए। कीवी कप्तान विलियम्सन ने 153 गेंदों में 11 चौकों की मदद से 89 रन की शानदार पारी खेली जिसकी बदौलत मेजबान न्यूजीलैंड ने पांच विकेट पर 216 रन बनाकर पहली पारी में 51 रन की महत्वपूर्ण बढ़त हासिल कर ली है। दूसरे दिन का खेल खराब रौशनी के कारण निर्धारित समय से पहले समाप्त करना पड़ा। हालांकि उस समय भारतीय गेंदबाज अपनी लय हासिल कर चुके थे। भारत की अब तीसरे दिन पूरी कोशिश रहेगी कि वह न्यूजीलैंड की पारी को जल्दी समेटे और उसे बड़ी बढ़त हासिल करने से रोके। अपनी चोट से उबर कर इस मुकाबले में उतरे इशांत ने शानदार गेंदबाजी की और 15 ओवर में 31 रन देकर तीन विकेट लिए। मोहम्मद शमी ने 17 ओवर में 61 रन पर एक विकेट और ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने 30 ओवर में 60 रन पर एक विकेट लिया। तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की खराब फॉर्म टेस्ट में भी जारी रही और वह 18.1 ओवर में 62 रन पर कोई विकेट नहीं ले पाए।
न्यूजीलैंड की तरफ से ओपनर टॉम लाथम ने 11, टॉम ब्लंडेल ने 30, रॉस टेलर ने 44 और हेनरी निकोल्स ने 17 रन बनाये। स्टंप्स के समय बीजे वाटलिंग 14 और कॉलिन डी ग्रैंडहोम चार रन बनाकर क्रीज पर मौजूद थे। भारत ने सुबह जब पारी की शुरुआत की तो रहाणे ने 38 और रिषभ पंत ने 10 रन से अपनी पारी को आगे बढ़ाया। पंत ने सुबह लेफ्ट आर्म स्पिनर एजाज पटेल की गेंद पर शानदार छक्का लगाया जिससे लगा कि यह युवा विकेटकीपर बल्लेबाज आज एक बड़ी पारी खेलेगा लेकिन पंत ने अनावश्यक सिंगल लेने की कोशिश में अपना विकेट गंवा दिया। पटेल के सीधे थ्रो पर पंत रन आउट हो गए। पंत ने 53 गेंदों पर 19 रन में एक चौका और एक छक्का लगाया। पंत का विकेट 132 के स्कोर पर गिरा। पंत तेज गेंदबाज साउदी के पारी के 59वें ओवर में आउट हुए थे। मैदान पर उतरे ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को साउदी ने एक बेहतरीन गेंद पर बोल्ड कर दिया। अश्विन की यह पहली गेंद थी और वह पूरी तरह रक्षात्मक थे लेकिन गेंद ने हल्का सा मूवमेंट लिया और अश्विन के बल्ले के पास से निकलते हुए उनका ऑफ स्टंप ले उड़ी। भारत को रहाणे से खासी उम्मीदें थीं लेकिन रहाणे दुर्भाग्यपूर्ण ढंग से विकेट के पीछे कैच दे बैठे। रहाणे ने साउदी की ऑफ स्टंप से बाहर की गेंद पर आखिरी समय में बल्ला हटाने की कोशिश की लेकिन गेंद ने बल्ले का अंदरुनी किनारा लिया और विकेटकीपर बीजे वाटलिंग के हाथों में समा गयी। रहाणे का विकेट 143 के स्कोर पर गिरा। रहाणे ने 138 गेंदों पर 46 रन में पांच चौके लगाए।
इशांत शर्मा 23 गेंदों में पांच रन बनाकर जैमिसन का शिकार बने। मोहम्मद शमी ने 20 गेंदों पर तीन चौकों के सहारे 21 रन की संक्षिप्त लेकिन अच्छी पारी खेली और भारत को 165 के स्कोर तक पहुंचाया। शमी आखिरी बल्लेबाज के रुप में साउदी का शिकार बने और भारत की पारी 68.1 ओवर में 165 रन पर समाप्त हो गयी। साउदी और जैमिसन के चार-चार विकेट के अलावा ट्रेंट बोल्ट ने 57 रन पर एक विकेट लिया। न्यूजीलैंड ने पारी की ठोस शुरुआत की और टॉम लाथम तथा टॉम ब्लंडेल ने पहले विकेट के लिए 26 रन जोड़े। इस महीने 15 फरवरी को अपना फिटनेस टेस्ट पास कर आखिरी समय एकादश में शामिल किए गए इशांत ने लाथम को विकेट के पीछे पंत के हाथों कैच कराकर भारत को पहली सफलता दिलायी। लाथम ने 30 गेंदों में 11 रन बनाए।
ब्लंडेल और कप्तान विलियम्सन ने दूसरे विकेट के लिए 47 रन की साझेदारी की। इशांत ने ब्लंडेल को बोल्ड कर भारत को दूसरी सफलता दिलायी। ब्लंडेल ने 80 गेंदों पर 30 रन में चार चौके लगाए। विलियम्सन और अपना 100वां टेस्ट खेल रहे टेलर ने तीसरे विकेट के लिए 93 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी की। हालांकि इस साझेदारी के बाद भारत ने न्यूजीलैंड के तीन विकेट जल्दी-जल्दी निकाल दिए। इशांत ने टेलर को चेतेश्वर पुजारा के हाथों कैच कराया। टेलर ने 71 गेंदों पर 44 रन में छह चौके और एक छक्का लगाया। शमी ने विलियम्सन को स्थानापन्न खिलाड़ी रवींद्र जडेजा के हाथों कैच कराया। जडेजा ने नीचे झुकते हुए एक बेहतरीन कैच लपकर विलियम्सन को शतक से वंचित कर दिया। विलियम्सन ने 153 गेंदों पर 89 रन में 11 चौके लगाए। ऑफ स्पिनर अश्विन ने निकोल्स को कप्तान विराट कोहली के हाथों कैच कराया। निकोल्स ने 62 गेंदों पर 17 रन में दो चौके लगाए।
भारत ने 41 रन के अंतराल में मेजबान टीम के तीन विकेट झटक लिए। लेकिन खराब रोशनी के कारण दूसरे दिन का खेल निर्धारित समय से पहले खत्म करना पड़ा। स्टंप्स के समय वाटलिंग 14 और ग्रैंडहोम चार बनाकर क्रीज पर थे। बुमराह ने अपनी तेजी और उछाल से बल्लेबाजों को परेशान जरुर किया लेकिन वह कोई विकेट नहीं निकाल पाए। बुमराह ने अपने 19वें और पारी के 71वें ओवर की पहली गेंद डाली थी जिसके बाद खराब रोशनी के चलते दिन का खेल समाप्त हो गया। 

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90