शुक्रवार, 20 दिसंबर 2019

,

कोलकाता नाइट राइडर्स ने खरीदा सबसे उम्रदराज 48 साल का खिलाड़ी

कोलकाता। आईपीएल ऑक्शन 2020 में कुल 62 खिलाड़ी बिके. जिनमें से पैट कमिंस जैसे कई खिलाडिय़ों पर मोटा दांव खेला गया. लेकिन एक खिलाड़ी महज़ 20 लाख की रकम में बिकने के बाद भी चर्चा में है. हम बात कर रहे हैं मुंबई के 48 साल के क्रिकेटर प्रवीण तांबे की. तांबे आईपीएल इतिहास में सबसे अधिक उम्र में बिकने वाले खिलाड़ी बन गए हैं. ये वही तांबे हैं जिन्होंने इससे पहले 41 की उम्र में टी20 डेब्यू करके सबको हैरान कर दिया था. इस बार के ऑक्शन में कोलकाता नाइट राइडर्स जैसे ठान कर उतरी थी कि ऑक्शन का विनर उसे ही बनना है. केकेआर ने सबसे पहले अपने फेवरेट इओन मॉर्गन को सस्ते में खरीदा. फिर तेज़ गेंदबाज़ी के लिए पैट कमिंस पर सबसे मोटी बोली लगा दी. इसके बाद उन्होंने प्रवीण तांबे जैसे स्पिनर को इतने सस्ते में लेकर एक फायदे का सौदा कर लिया. प्रवीण तांबे को साल 2013 में पहली बार राजस्थान रॉयल्स के लिए राहुल द्रविड़ ने टीम में मौका दिया था. 41 साल की उम्र में बिना कोई मैच खेले सीधे आईपीएल में खेलना बड़ी बात थी. 2013 के बाद तांबे साल 2014 और 2015 दोनों साल राजस्थान रॉयल्स टीम का हिस्सा रहे. 2014 में उन्होंने केकेआर के खिलाफ आईपीएल इतिहास की हैट्रिक भी ली. 
हालांकि इसके बाद 2016 और 2017 में राजस्थान की टीम निष्कासित हो गई. इसके बाद तांबे को 2016 में गुजरात लायंस टीम ने ले लिया. साल 2017 में एक बार फिर से एक नई टीम सनराइज़र्स हैदराबाद ने उन पर बोली लगाई. 2017 में तांबे हैदराबाद की टीम के साथ गए. लेकिन उन्हें खेलने का मौका नहीं मिला. अब उम्मीद जताई जा रही है कि उन्हें इस बार टीम में मौका मिलेगा. साल 2013 में द्रविड़ ने तांबे को पहला मौका दिया. इसके बाद मुंबई की टीम ने इस खिलाड़ी की काबिलियत को समझा. 2013 के आखिरी महीने में मुंबई की टीम ने 41 साल में इस खिलाड़ी का फस्र्ट-क्लास डेब्यू करवाया. इसके बाद जाकर लिस्ट ए क्रिकेट के लिए तो उन्हें और भी लंबा इंतज़ार करना पड़ा. लिस्ट ए में मुंबई ने तांबे का डेब्यू साल 2017 में करवाया.

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90