शुक्रवार, 27 दिसंबर 2019

,

100 यात्रियों को ले जा रहा विमान उड़ान भरते ही इमारत से टकराया, 15 की मौत

कजाकिस्तान। 100 यात्रियों को लेकर जा रहा कजाकिस्तान का एक विमान अल्माटी हवाई अड्डे पर दो मंजिला इमारत से टकराने के बाद दुर्घटनाग्रस्त हो गया। जिसके कारण 15 लोगों की मौत हो गई है और कम से कम 35 लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। जिनमें से कुछ यात्रियों को बचाने की कोशिशें तजारी हैं और अब तक 15 लोगों की मौत हो गई है। घटनास्थल पर आपातकालीन सेवाएं मौजूद हैं। विमान कजाकिस्तान के बड़े शहर अल्माटी से देश की राजधानी नूरसुल्तान जा रहा था। मगर उड़ान भरते ही यह इमारत से टकरा गया। जिसके कारण यह हादसा हुआ। अल्माटी हवाई अड्डे का कहना है कि विमान संख्या जेड92100 में 95 यात्रियों सहित पांच क्रू सदस्य सवार थे। विमान अपनी निर्धारित ऊंचाई तक नहीं पहुंच सका और कंक्रीट के फेंस से टकरा गया।
 हवाईअड्डे के अधिकारियों ने बताया कि सुबह 7 बजकर 22 मिनट पर विमान ने अपना संतुलन खो दिया। अल्माती हवाईअड्डे ने अपने फेसबुक पन्ने पर एक बयान में कहा कि कोई आग नहीं लगी थी। विमान की पहचान मध्यम आकार के दो टर्बोफैन वाले जेट एयरलाइनर फोक्कर-100 के रूप में हुई है। विमान का निर्माण करने वाली कंपनी 1996 में दिवालिया हो गई और उसके अगले ही साल फोक्कर-100 विमानों का निर्माण रुक गया। इमर्जेंसी कमेटी के अनुसार कम से कम 15 लोगों की मौत हो चुकी है। सरकार और अल्माटी हवाई अड्डे का कहना है कि आपातकालीन सेवाएं मौके पर हैं और फंसे हुए लोगों को बाहर निकाला जा रहा है। रॉयटर के पत्रकार का कहना है कि क्षेत्र में घना कोहरा छाया हुआ था। विमान कजाकिस्तान की एयरलाइन बेक एयर का है। विमानन समिति का कहना है कि वह जांच लंबित रहने तक इस तरह की सभी उड़ानों को निलंबित कर रहा है। एएफपी की खबर के अनुसार कजाख्स्तान के राष्ट्रपति कासिम-जोमार्त तोकायेव ने पीडि़त परिवारों को अनुग्रह राशि देने की बात कही है। उन्होंने ट्वीट किया कि हादसे के लिए जिम्मेदार व्यक्ति को कानून के मुताबिक कड़ी सजा दी जाएगी। तोकायेव ने कहा कि हादसा किन परिस्थितियों में हुआ, इसकी जांच करने के लिए एक सरकारी आयोग का गठन किया गया है।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90