Your Ads Here

समय-सीमा में गुणवत्तापूर्ण कार्य कराना सुनिश्चित करें: डॉ. शिव डहरिया


नगरीय प्रशासन मंत्री ने की नगर निगम बिलासपुर के कार्यो की समीक्षा

रायपुर। नगरीय प्रशासन और श्रम मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने बुधवार को बिलासपुर नगर निगम के अधिकारियों की बैठक लेकर विभागीय काम-काज की समीक्षा की। डॉ. डहरिया ने बैठक में कहा कि समय-सीमा में गुणवत्तापूर्ण कार्य कराना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने शहरी क्षेत्रों के रहवासियों को बिजली, पानी, सड़क और स्वच्छता जैसी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए आदि अधिकारियों को लगातार स्थल पर जाकर निरीक्षण करने तथा अवलोकन करने के निर्देश दिए।
डॉ. डहरिया ने समीक्षा बैठक के पहले नगर निगम बिलासपुर के विभिन्न वार्डों में घूम-घूमकर विभागीय योजनाओं की प्रगति और निर्माणाधीन विकास कार्यों का निरीक्षण भी किया।
    नगरीय प्रशासन मंत्री ने नगर निगम में बजट उपलब्धता, राजस्व वसूली, पेयजल, प्रकाश व्यवस्था, वार्ड कार्यालय, गोठान, पट्टा वितरण, डी.एम.एफ. के कार्य, सफाई व्यवस्था, ओवरब्रिज निर्माण, स्मार्ट सिटी एवं सिवरेज के कार्यो की समीक्षा की। बैठक में बताया गया कि नगर निगम में 115 करोड़ रूपए का बजट उपलब्ध है। वर्तमान में फंड की समस्या नहीं है। नगर निगम क्षेत्र में 1077 कार्य स्वीकृत हुए हैं। इनमें से ज्यादातर कार्य आवास निर्माण के हैं। राजस्व वसूली के लिए लोगों को फोन एवं एस.एम.एस. के माध्यम से सूचना दी जा रही है। ताकि वे समय पर टैक्स जमा करें। राजस्व वसूली के संबंध में कलेक्टर डॉ. संजय अलंग ने सुझाव दिए कि फोन एवं एस.एम.एस. के साथ ही बिल भी उपलब्ध कराएं तो ज्यादा कारगर सिद्ध हो सकता है। अधिकारियों ने बताया कि पेयजल हेतु अमृत मिशन के तहत 27 किलोमीटर पाइप लाइन बिछाया जाएगा। अभी तक 16.8 किलोमीटर पाइप लाइन बिछाया जा चुका है। डॉ. डहरिया ने मुख्यमंत्री वार्ड कार्यालय योजना की स्थिति का भी जायजा लिया। उन्होंने वार्डों में आम लोगों से मिलकर वार्ड कार्यालय में समस्याओं के निराकरण की स्थिति को जाना और लोगों की समस्याएं भी सुना।
उन्होंने वार्ड कार्यालयों को जनपयोगी बनाने के लिए यहां अधिक से अधिक लोग अपनी समस्या पंजीयन कराएं, इसके लिए पम्पलेट वितरण कर व्यापक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। मौखिक शिकायतों को भी पंजी में दर्ज करने के सुझाव दिए गए। अधिकारियों ने मंत्री डॉ. डहरिया को डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन के लिए चिंगराजपारा एवं चांटीडीह मेंं सकरी गलियों के कारण हो रही समस्याओं को अवगत कराया। सिवरेज कार्य की समीक्षा के दौरान विस्तृत जानकारी लेते हुए नगरीय प्रशासन मंत्री ने कहा कि इस कार्य के निरंतर प्रगति और देखरेख के लिए परियोजना पूर्ण होने तक एक स्थाई अधिकारी को लगाया जाए। इसके साथ ही स्मार्ट सिटी एवं ओव्हर ब्रिज निर्माण के कार्यो समीक्षा की गई। बैठक में राज्य स्तरीय अधिकारियों के साथ ही आयुक्त नगर निगम एवं संबंधित अधिकारी मौजूद थे।

No comments

Powered by Blogger.