गुरुवार, 5 सितंबर 2019

,

दंतेवाड़ा के विकास का जिम्मा मेरा, हर माह करेंगे बैठक - भूपेश



  • सभी कार्यकर्ता को अपने-अपने पोलिंग बूथ में चुनाव जीतना है


जगदलपुर । प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि दंतेवाड़ा जिले में विकास और काम के भरोसे कांग्रेस अपने प्रत्याशी के लिए वोट मांगेगी। उन्होंने पहली चुनावी सभा में लोगों को भरोसा दिलाया कि दंतेवाड़ा के विकास की जिम्मेदारी उनकी होगी, इसके लिए हर महीने पंचायत प्रतिनिधियों के साथ बैठक करेंगे। नामांकन दाखिल करने के बाद मेनका डोबरा ग्राउंड में आयोजित आमसभा में मौजूद लोगों को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने संबोधित किया। देवती के लिए लोगों से मतदान करने की अपील करते हुए कहा कि पिछले चुनाव में एक गलती की वजह से हार मिली थी, इस बार कोई गलती नहीं करनी है, सभी कार्यकर्ता को अपने-अपने पोलिंग बूथ में चुनाव जीतना है। इस दौरान उन्होंने अपने आठ महीने की सरकार की उपलब्धि गिनाते हुए कहा कि किसानों की ऋ ण माफी के साथ प्रति च्ंिटल धान के लिए 2500 रुपए दिए, लोहंडीगुड़ा में टाटा से किसानों को उनकी जमीन वापस दिलाई, तेंदूपत्ता के लिए 4 हजार रुपए प्रति मानक बोरा दिए, वनाधिकार पट्टे का वितरण किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार आपके साथ है, यहां भाजपा को जो प्रभारी है, वह एनएमडीसी का चेयरमैने हुआ करता था। भाजपा से पूछिए कि खदान की नीलामी किसके आदेश से हुई थी।
छत्तीसगढ़ को लूटने वाले लोगों के खिलाफ महेंद्र कर्मा लड़ा करते थे, अब देवती कर्मा लड़ रही हैं। बघेल ने कहा कि केंद्र में भाजपा की सरकार ने वन पट्टा के लिए सुप्रीम कोर्ट में अपना वकील तक नहीं खड़ा किया था, जिसके बाद आदिवासियों को उनकी जमीन से बेदखल करने का आदेश जारी कर दिया गया।
उन्होंने कहा कि हमने हलफनामा दिया, जिसके बाद पट्टा वितरण का काम शुरू हुआ है, यह न केवल बस्तर या पूरे छत्तीसगढ़ में ही नहीं बल्कि पूरे हिन्दुस्तान में पट्टा वितरण किया जा रहा है। युवाओं को रोजगार देने की बात कहते हुए कहा कि हमने निर्णय लिया है कि 50 लाख तक का काम स्थानीय स्तर पर होगा। इससे न केवल अच्छी क्वालिटी की सड़कें बनेंगी, बल्कि स्थानीय युवाओं को काम मिलेगा।  नंदराज पहाड़ का जिक्र करते हुए बघेल ने कहा कि भाजपा पहाड़ बेचना चाह रही थी। हमने कहा कि कोई जंगल कटाई नहीं होगी, पंचायत के बैठक की जांच होगी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पहले प्रदेश कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया ने अपने संबोधन में कहा कि कौन सी ऐसी प्रदेश सरकार है, जिसने किसानों को 2500 रुपए धान का मूल्य दिया, दो घंटे में किसानों का कर्ज माफ किया, उद्योग के लिए हुए जमीन को किसानों को लौटाया गया. यह ऐतिहासिक कार्य हमारी सरकार ने किया। इसके पहले देवती कर्मा ने भी स्थानीय बोली में लोगों को संबोधित कर उनका समर्थन मांगा। 

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90