मंगलवार, 24 सितंबर 2019

,

पोषण, स्वास्थ्य, शिक्षा और खेल के क्षेत्र में विकास निधि का होगा उपयोग


  • हाई पावर कमेटी की बैठक में खनिज विकास निगम के  परिक्षेत्र विकास निधि के प्रस्ताव की समीक्षा

रायपुर। मुख्य सचिव (Chief Secretary) सुनील कुजूर (Sunil Kujur) की अध्यक्षता में आज यहां मंत्रालय (Ministry) महानदी भवन में राष्ट्रीय खनिज विकास निगम की परिक्षेत्र विकास निधि हेतु गठित हाई पावर कमेटी की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में वित्तीय वर्ष 2019-20 के दौरान बस्तर, कोण्डागांव, दंतेवाड़ा, बीजापुर, सुकमा और नारायणपुर में विकास निधि मद से किए जाने वाले विकास कार्यो के प्रस्तावों पर विस्तार से चर्चा की गई।
    बैठक में मुख्य सचिव ने कहा कि विकास निधि मद से पोषण, स्वास्थ्य, शिक्षा और खेल के क्षेत्र में काम किए जाए। स्कूलों, आश्रम, छात्रावासों में पानी, बिजली, टेबल-कुर्सी, शौचालय आदि मूलभूत सुविधाएं विकास निधि से उपलब्ध कराए जाएं। उन्होंने कहा कि योजना के तहत पूर्व में स्वीकृत किए गए निर्माण कार्यो की पूर्णता के लिए विशेष प्रयास किए जाएं। जो निर्माण कार्य पूरे हो चुके है, उनका उपयोग सुनिश्चित किया जाएं। जो काम चालू नही किए जा सके है, उन्हें निरस्त किया जाए। मुख्य सचिव ने वीडियों कॉन्फें्रेसिंग के जरिए बस्तर, कोण्डागांव, दंतेवाड़ा, बीजापुर, सुकमा और नारायणपुर जिले के कलेक्टरों से विकास निधि के कार्यो की जानकारी ली। बैठक में सचिव लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी डी.डी. सिंह, सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण श्रीमती निहारिका बारिक, विशेष सचिव खनिज अन्बलगन पी., बस्तर संभागायुक्त अमृत खलको सहित एन.एम.डी.सी. के सुमीत देव, सुनील कुमार, प्रशांत दास, पी.श्याम, सुप्रियदर्शनी जी., जितेन्द्र कुमार, पंकज कुमार शर्मा, सुनील उपाध्याय उपस्थित थे।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90