Your Ads Here

डीजीसीए ने एपल लैपटॉप विमान में ले जाने पर लगाया प्रतिबंध


नईदिल्ली। नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने एपल के कुछ पुराने मॉडल के लैपटॉप विमानों में ले जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। महानिदेशालय ने सोमवार को कहा कि एपल ने सितंबर 2015 से फरवरी 2017 के बीच निर्मित 15 इंच के कुछ मैकबुक प्रो लैपटॉप वापस मंगाये हैं। उसने बैटरी के ज्यादा गर्म होने की शिकायतों के मद्देनजर ये लैपटॉप वापस मंगाये हैं। उसने कहा सुरक्षा जोखिम को देखते हुये डीजीसीए सभी यात्रियों से अनुरोध करता है कि वे प्रभावित मॉडल के लैपटॉप न तो हैंड-बैगेज में ले जायें और न ही चेक्ड-इन बैगेज में रखें, जब तक कि इन बैट्रियों को विनिर्माता सुरक्षित घोषित नहीं करता या उसकी ओर से इन्हें बदल नहीं दिया जाता। बता दें कि इससे पहले यूरोपियन एविएशन सेफ्टी एजेंसी और यूएस फेडरल एविएशन ऐडमिनिस्ट्रेशन ने ऐपल लैपटॉप ले जाने पर बैन लगा दिया था।
सिंगापुर एयरलाइंस और थाई एयरवेज ने भी इस बैन को अपने यहां लागू कर दिया है। सिंगापुर एयरलाइंस ने अपनी वेबसाइट पर नोटिस लगाया है, यात्री अपने साथ ऐपल लैपटॉप विमान में न तो हैंडबैग में और न ही चेक इन बैग में लेकर जा सकते हैं।उल्लेखनीय है कि इससे पहले सैमसंग के मोबाइल फोनों में आग लगने की कुछ घटनाओं के बाद डीजीसीए ने चुनिंदा मॉडलों को विमान में ले जाने पर प्रतिबंध लगाया था।

No comments

Powered by Blogger.