Your Ads Here

एससीओ समिट: ओमान के रास्ते बिश्केक के लिए रवाना हुए पीएम मोदी



नईदिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार से शुरु होने वाले दो दिवसीय शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक रवाना हो गए। मोदी इस दौरान कई देशों के नेताओं के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। वह इस शिखर सम्मेलन से इतर किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सूरोनबे जीनबेकोव के साथ भी द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। पीएम मोदी ने किर्गिस्तान जाने के लिए पाकिस्तान की बजाय ओमान के रास्ते को चुनकर शिखर सम्मेलन से ठीक पहले पड़ोसी मुल्क को सख्त संदेश देने की कोशिश की है।

मोदी ने बिश्केक के लिए प्रस्थान करने से पहले बुधवार शाम को कहा कि भारत दो वर्ष पहले एससीओ की पूर्ण सदस्यता हासिल करने के बाद से इसके विभिन्न बैठकों में सक्रिय रूप से शामिल रहा है। उन्होंने कहा, हमने पिछले वर्षों के दौरान किर्गिस्तान की अध्यक्षता को पूर्ण सहयोग दिया है। मोदी ने कहा, एससीओ शिखर सम्मेलन में वैश्विक सुरक्षा स्थिति, बहुपक्षीय आर्थिक सहयोग, लोगों का आपसी सहयोग और अंतरराष्ट्रीय एवं क्षेत्रीय महत्व के सामयिक विषयों पर चर्चा होने की उम्मीद है। शिखर सम्मेलन से इतर कई नेताओं से द्विपक्षीय वार्ता करने की भी मेरी योजना है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ट्वीट किया, वैश्चिक मंच पर भारत की उपस्थिति को मजबूत करना है। चुनावों के बाद पहली बहुपक्षीय वार्ता के लिए, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिश्केक में 13-14 जून को होने वाले शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन के लिए दो-दिवसीय दौरे पर रवाना हो गये हैं। मोदी एससीओ शिखर सम्मेलन के समाप्त होने के बाद किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सोरोनबाय जेनबेकोव के निमंत्रण पर शुक्रवार (14 जून) को किर्गिस्तान के साथ भी आधिकारिक रूप से द्विपक्षीय वार्ता करेंगे।

कुमार ने कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सोरोनबाय जेनबेकोव के साथ प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ताएं होंगी और वह संयुक्त रूप से भारत-किर्गिस्तान बिजनेस फोरम का उद्घाटन करेंगे। मोदी रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ द्विपक्षीय बैठकें भी होंगी। बिश्केक में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ औपचारिक या अनौपचारिक बैठक की संभावना के बारे में पूछे जाने पर विदेश मंत्रालय ने साफ किया है कि मोदी की पाकिस्तानी प्रधानमंत्री से मुलाकात का कोई कार्यक्रम नहीं है। सूत्रों के अनुसार मोदी की गुरुवार देर शाम अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी के साथ द्विपक्षीय बैठक भी होगी।

No comments

Powered by Blogger.