Your Ads Here

प्रधानमंत्री बनने राहुल कश्मीर खोने तैयार लगते हैं -अनिल जैन


  • पुनिया के बयान पर भाजपा प्रदेश प्रभारी का पलटवार

रायपुर ।  भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री व छत्तीसगढ़ प्रदेश प्रभारी डॉ. अनिल जैन ने कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया के बयान पर दो टूक शब्दों में कहा है कि कांग्रेस घोषणापत्र में शामिल राजद्रोह कानून खत्म करने के मुद्दे पर  हम सीधा आरोप लगा रहे हैं कि देश के पहले कांग्रेसी प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के समय भारत का विभाजन हुआ और पाकिस्तान बना। अब कांग्रेसी घोषणा पत्र देखकर लग रहा है कि प्रधानमंत्री बनने के लिए कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी पुरानी गलती दोहराकर कश्मीर खोने के लिए तैयार लगते हैं!
प्रदेश भाजपा प्रभारी डॉ. जैन  ने कहा कि कांग्रेस वही इरादे व्यक्त कर रही है, जो पाकिस्तान चाहता है। उन्होंने कहा कि कश्मीर को लेकर उमर अब्दुल्ला और मेहबूबा मुफ्ती के बयान बता रहे हैं कि इनकी नीयत क्या है। कांग्रेस भी इनके इरादों को मौन समर्थन दे रही है इसीलिए जब उमर अब्दुल्ला ने कहा कि कश्मीर में वजीरेआजम और सदर (प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति) के पद बहाल होंगे और मेहबूबा ने कहा कि कश्मीर से हिन्दुस्तान के रिश्ते खत्म हो जायेंगे तो राहुल गांधी और उनकी कांग्रेस के मुंह पर किसने ताला लगा दिया।
डॉ. जैन ने कहा कि कांग्रेस सत्ता की खातिर अपने पूर्वजों का इतिहास दोहराने जा रही है। वह हुकूमत हासिल करने जिस तरह की सियासत कर रही है, वह देश तोडऩे की साजिश नहीं तो और क्या है। डॉ. जैन ने कहा कि कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पुनिया पहले अपने अध्यक्ष से अच्छी तरह समझ लें कि कांग्रेस का घोषणा पत्र राजद्रोह के मामले में क्या दृष्टिकोण प्रकट कर रहा है। उसके बाद छत्तीसगढ़ में आकर बिन्दुवार बात करें। भाजपा का नजरिया एकदम साफ है कि हम किसी भी कीमत पर राष्ट्र विरोधी ताकतों को और उन्हें समर्थन देने वालों को कतई माफ नहीं करेंगे। कांग्रेस को उसकी तुष्टिकरण की नीति और देशद्रोहियों की शुभकामनाएं मुबारक। भारतीय जनता पार्टी भारत और भारतीयों के हित की ही बात करेगी।  

No comments

Powered by Blogger.