Your Ads Here

लोकसभा चुनाव : कांग्रेस की ओर से युवा वर्ग को मिल सकता है चुनाव लडऩे का मौका


-महिला दावेदारों को भी टिकट देने पर गंभीरता से विचार 
रायपुर । लोकसभा चुनाव का बिगुल बजते ही राजनीतिक दलों की तैयारियां तेज हो गई हैं। इधर राज्य में कांग्रेस की सत्ता लौटते ही कांग्रेस के पुराने धुरंधर भी सक्रिय हो गए । मगर कांग्रेस ने स्पष्ट कर दिया है कि इस बार नए चेहरों के साथ ही महिलाओं व युवाओं को मौका दिया जाएगा।  प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने जिस तरह से विधानसभा चुनाव के पूर्व भाजपा पर तीखा हमला कर कांग्रेस के पक्ष में बेहतर माहौल बनाया था। इसी क्रम में चलते हुए पीसीसी ने एक बार फिर से लोकसभा चुनाव की तैयारियां तेज कर दी है। प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी पीएल पुनिया ने विधानसभा चुनाव का फार्मूला पुन: अख्तियार करते हुए जहां पीसीसी नेताओं, पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को रिचार्ज करते हुए एकजुट रखने में अपनी अहम भूमिका निभाई है तो वहीं पीसीसी चीफ ने भी इसमें कोई कसर नहीं छोड़ी है। प्रदेश में कांग्रेस की स्थिति अब मजबूत दिखाई दे रही है। इधर राज्य में कांग्रेस की सत्ता वापसी के साथ ही लोकसभा चुनाव के मद्देनजर सक्रिय हुए पुराने धुरंधरों ने दिल्ली में भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराई है। मगर तमाम अटकलों पर विराम लगाते हुए अब यह स्पष्ट हो गया है कि पीसीसी पुराने धुरंधरों के बजाए नए, ऊर्जावान चेहरों को मौका देगी। पीसीसी सूत्रों ने तो यहां तक कह दिया है कि इस बार लोकसभा चुनाव में केवल ऐसे चेहरों को ही टिकट मिलेगा जिसे जनता पसंद करती हो और वे चुनाव जीतने का माद्दा रखते हों। इनमें युवा वर्ग को विशेष रूप से मौका दिए जाने की बात कही जा रही है, इसके अलावा महिला वर्ग को भी इस बार लोकसभा चुनाव में काफी महत्व दिया जा रहा है। ऐसे में यह माना जा रहा है कि कांग्रेस की ओर से प्रदेश के 11 लोकसभा सीटों में से अधिकांश में युवा और महिलाओं को प्रत्याशी बनाया जाएगा। बहरहाल तमाम अटकलों के बीच कांग्रेस प्रदेश की सभी 11 लोकसभा सीटों को जीतने का लक्ष्य लेकर चल रही है। इसमें कांग्रेस कितनी सफल होगी, यह चुनाव परिणाम से स्पष्ट होगा।

No comments

Powered by Blogger.