Your Ads Here

1 साल से कम के बच्चे को ये चीजें जरूर खिलाएं


जब आपका नवजात शिशु 6 महीने का हो जाए तो उसे मां के दूध के साथ-साथ पोषक तत्वों से भरपूर हल्का खाना खिलाना भी शुरू करें। गले में फंसने वाली हार्ड चीजों के अलावा आप जो चाहें वह अपने बच्चे को खिला सकती हैं। दाल का पानी, सब्जी की प्यूरी, तरबूज की प्यूरी, गले हुए चावल, चिकन प्यूरी... सॉफ्ट और आसानी से पचने वाली कोई भी चीज आप बच्चे को खिला सकती हैं। सिर्फ इस बात का ध्यान रखें कि कोई भी नया फूड आइटम 3 दिन से पहले शुरू न करें यानी कोई भी चीज बच्चे को लगातर 3 दिन तक खिलाएं। ऐसा इसलिए करना है ताकि आप यह जान पाएं कि बच्चे को किसी फूड आइटम से ऐलर्जी या रिऐक्शन तो नहीं हो रहा। इसके अलावा 1 साल से कम के बच्चे को ये चीजें भी जरूर खिलाएं...
बेरीज
बच्चों को कलरफुल चीजें खेलने में ही नहीं बल्कि खाने में भी पसंद आती हैं लिहाजा रेड,ब्लू और ब्लैक कलर की ब्राइट कलरफुल बेरीज शिशु को जरूर खिलाएं। पोषक तत्वों से भरपूर बेरीज का स्वाद भी अनोखा होता है और यह बच्चों को जरूर पसंद आएगा।
मूंगफली
शिशु को मूंगफली भी जरूर खिलाएं ताकि पता चल जाए उन्हें इससे ऐलर्जी तो नहीं है। लेकिन सीधे मूंगफली देने से वह बच्चे के गले में फंस सकती है। लिहाजा ब्रेडस्टिक में लगाकर पीनट बटर खिला सकती हैं या फिर मूंगफली को बारीक पीसकर प्यूरी बनाकर खिलाएं।
हरी पत्तेदार सब्जी
आप चाहें तो हरी पत्तेदार सब्जी का प्यूरी बनाकर भी बच्चे को खिला सकती हैं। हो सकता है शुरुआत में एक-दो बार टेस्ट अच्छा न लगने की वजह से बच्चा न खाए लेकिन प्रयास जारी रखें क्योंकि पोषक तत्वों से भरपूर हरी सब्जी शिशु के विकास के लिए बेहद जरूरी है।
प्याज-लहसुन
आप चाहें तो शिशु के डेली आहार में थोड़ी सा प्याज-लहसुन भी डाल सकती हैं। ऐसा करने से आपके शिशु का टेस्ट डिवेलप होगा और वह हर तरह की चीजें खाने का शौकीन बनेगा।
अंडा
कुछ सालों पहले तक पीडियाट्रिशन 1 साल से कम के बच्चों को अंडा देने से मना करते थे। लेकिन अब के पीडियाट्रिशन्स शिशु को अंडा खिलाने के लिए कहते हैं। प्रोटीन, हेल्दी फैट से भरपूर अंडा बच्चे के लिए परफेक्ट फूड है। आप चाहें तो सब्जी की प्यूरी में अंडे की भुर्जी मिलाकर भी बच्चे को खिला सकती हैं। 

No comments

Powered by Blogger.