Your Ads Here

नैशनल बैडमिंटन: साइना ने कोर्ट को खराब बताया, खेलने से किया मना


गुवाहाटी । सीनियर राष्ट्रीय बैडमिंटन चैंपियनशिप में गुरुवार को तब विवाद पैदा हो गया जब मौजूदा चैंपियन साइना नेहवाल ने यहां के कोर्ट को खराब करार देकर अपना एकल मैच खेलने से इनकार कर दिया। समीर वर्मा के पुरुष एकल मैच के दौरान टखने में दर्द के कारण हटने के बाद ओलिंपिक कांस्य पदक विजेता और पिछले साल पांव की चोट से परेशान रहीं साइना ने कोर्ट पर कदम रखा।
साइना का मुकाबला प्री-च्ॉर्टर फाइनल में श्रृति मंदाना से था, लेकिन उन्होंने कोर्ट का निरीक्षण करने के बाद तुरंत ही स्पष्ट कर दिया कि ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप करीब है और वह इस कोर्ट पर खेलकर जोखिम नहीं उठाना चाहती हैं। भारतीय बैडमिंटन संघ के सचिव (प्रतियोगिता) ओमार राशिद सहित अन्य अधिकारी मामला सुलझाने के लिए तुरंत ही हरकत में आ गए।
बाई अधिकारियों ने साइना, पारुपल्ली कश्यप और साई प्रणीत को शाम को खेलने के लिए मना लिया। साइना के पति और साथी खिलाड़ी कश्यप ने कहा, 'सिंधु के मैच खेलने के बाद दो स्थानों पर लकड़ी की तख्तियां बाहर निकल आई। वे अब उसे ठीक कर रहे हैं। हम शाम को अपने मैच खेलेंगे।Ó चैंपियनशिप असम बैडमिंटन अकादमी के तीन कोर्ट पर खेली जा रही है।
कश्यप भी पुरुष एकल में अपना प्री-च्ॉर्टर फाइनल मैच खेलने के लिए वहां मौजूद थे। वह साइना के साथ बगल के कोर्ट का निरीक्षण करने के लिए भी गए। सिंधु ने सुबह इसी कोर्ट पर अपना मैच खेला और मालविका बंसोद को सीधे गेम में हराकर महिला एकल के च्ॉर्टर फाइनल में जगह बनाई।
राशिद ने कहा कि बाई कोर्ट को सही करेगा और उसने तरुण राम फूकन इंडोर स्टेडियम के सीमेंट कोर्ट पर भी व्यवस्था कर दी है। राशिद ने कहा, 'कोर्ट दो स्थानों पर असमान हो गया था और इसलिए तीन खिलाडिय़ों ने खेलने से इनकार कर दिया। हम यहां समस्या का निदान कर रहे हैं और इसके अलावा इंडोर स्टेडियम में भी व्यवस्था कर दी है। 

No comments

Powered by Blogger.