Your Ads Here

दिल्ली ने गोवा को गोलरहित बराबरी पर रोका


नयी दिल्ली । दिल्ली डायनामोज ने सोमवार रात जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में खेले गए हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन के अपने 14वें दौर के मुकाबले में एफसी गोवा को गोलरहित बराबरी पर रोक दिया।
अंक तालिका में स्थान के लिहाज से दोनों टीमों को इस ड्रा से कोई फायदा नहीं हुआ लेकिन गोवा को मनोवैज्ञानिक रूप से काफी नुकसान हुआ है। गोवा की टीम 14 मैचों से 25 अंक लेकर तालिका में तीसरे स्थान पर है। दिल्ली को हराने की स्थिति में दूसरे स्थान पर पहुंच सकती थी।
दिल्ली की टीम 11 अंकों के साथ आठवें क्रम पर ही है। दिल्ली की टीम ने गोवा के खिलाफ अपना रिकार्ड बेहतर किया है। दोनों के बीच यह 12वां मैच था। तीन बार दिल्ली जीती है जबकि सात बार गोवा। दो मुकाबले बराबर रहे हैं। इस सीजन में गोवा ने अपने घर में नवम्बर में दिल्ली को 3-2 से हराया था।
पहले हाफ में साफ-सुथरा स्तरीय फुटबाल देखने को मिला। स्तरीय फुटबाल के बीच पहला हाफ 0-0 की बराबरी पर समाप्त हुआ लेकिन गेंद पर कब्जे की बात की जाए को गोवा (55 फीसदी) का पलड़ा भारी रहा। दिल्ली के लिए लालियानजुआला चांग्ते, गियानी जुइवेर्लून और डेनियल लाललिम्पुइया ने कुछ अच्छे मौका बनाए लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली। पहले हाफ में गोवा के लिए फेरान कोरोमिनास, हुगो बोउमोस, जैकीचंद सिंह ने अपनी चमक बिखेरी लेकिन वे अभी टीम को बढ़त नही दिला सके।
दूसरे हाफ की शुरुआत बदलावों के साथ हुई। दिल्ली ने दो बदलाव किए जबकि गोवा ने बोउमोस की जगह इदु बेदिया को अंदर किया। दिल्ली ने डेनियल के स्थान पर विनीत राय को अंदर लिया।
गोवा की टीम दिल्ली का किला भेदने के लिए बेताब थी और इसी क्रम में 49वें मिनट में ब्रेंडन ने एक कर्लिंग फ्रीकिक दिल्ली के बाक्स में भेजा लेकिन जुइवेर्लून ने उसे बाहर कर दिया। इसके बाद गोवा ने दो और हमले किए लेकिन उसे सफलता नहीं मिली। 55वें मिनट में कोरो को बाक्स में गिराया गया। उन्होंने पेनाल्टी की मांग की। रेफरी ने हालांकि उसे नकार दिया।
दिल्ली ने 57वें मिनट में जवाबी हमला किया। चांग्ते गेंद लेकर बाक्स में पहुंचने के प्रयास में थे लेकिन मोउतोर्दा फाल ने उसे बाहर मार दिया। दो मिनट बाद कोरो ने एक और हमला किया। बाक्स के अंदर जुइवेर्लून को छकाकर उन्होंने गेंद को गोल की ओर भेजा लेकिन दिल्ली का एक खिलाड़ी बीच में आ गया।
दिल्ली के गोलकीपर ने 63वें मिनट में सही दिशा में आ रहे ब्रेंडन के एक शाट को रोकते हुए गोवा को बढ़त लेने से रोका। इसी तरह का एक बचाव गोवा के गोलकीपर नवीन ने रेने मिहेलिक और उलिसी डेविला के प्रयास को नाकाम करने के लिए 68वें मिनट में किया।
ब्रेंडन, कोरो और जैकीचंद ने 83वें मिनट में गोवा के लिए एक बड़ा मूव बनाया लेकिन किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया। जैकी 84वें मिनट में बाहर गए। दिल्ली के लिए 87वें मिनट में इसी तरह का एक मौका नंदकुमार, चांग्ते और तेबार ने बनाया लेकिन वे सफल नहीं हो सके। इसके बाद भी कोई बड़ा मौका नहीं बन सका और दोनों टीमें अंक बांटने पर मजबूर हुईं।

No comments

Powered by Blogger.