Your Ads Here

कौन-सी पोजीशन में सोना है आपकी सेहत के लिए बेस्ट



स्वस्थ रहने के लिए अच्छी नींद लेना बहुत जरूरी है। खराब नींद ना सिर्फ दर्द का कारण बनती है बल्कि इससे आप गंभीर बीमारियों के चपेट में भी आ सकते हैं। मगर इसके लिए आप कितने घंटे सोते है इससे ज्यादा इस बात का ध्यान रखना जरूरी है कि आप किस पोजीशन में सोते हैं। ऐसे में आज हम आपको बताएंगे कि किस पोजीशन में सोने से आपको क्या-क्या फायदे मिलते हैं।

सोल्जर पोजीशन (Soldier Position)

पीठ के बल हाथों को सीधा करते हुए सोना सबसे अच्छी मुद्रा मानी जाती है। शवासन में इस्तेमाल होने वाली इस पोजीशन में सोने से रीढ़ की हड्डी सीधी रहती है और पेट में एसिड भी नहीं बनता। इसके अलावा इससे अनिद्रा, सिरदर्द और चेहरे की झुर्रियों की समस्या दूर रहती है। इस पोजीशन का ज्यादा फायदा लेने के लिए बिना तकिए के अपनी पीठ के बल सोने की कोशिश करें।


स्टारफिश पोजीशन (Starfish Position)

इस पोजीशन में सोने से आपकी रीढ़ और गर्दन को आराम मिलता है। साथ ही इससे झुर्रियां, अनिद्रा, सिरदर्द की आशंका भी कम होती है। मगर इस तरह की पोजीशन में बाहों की अजीब स्थिति होने से कंधे की नसों पर दबाव पड़ता है, जिससे कंधों में दर्द की समस्या हो सकती है। इस पोजीशन में सोते हुए भी आप तकिए से दूरी बनाने की कोशिश करें, ताकि बॉडी को सही पोश्चर मिल सके।


लॉग पोजीशन (Log Position)

इस मुद्रा में सोते समय बाजुओं को स्थिर व सीधा रखना होता है। अगर आप इस पोजीशन में सोते हैं तो बाईं तरफ करवट लेकर सोना सेहत के लिए फायदेमंद होगा। इससे ना सिर्फ रीढ़ की हड्डी सीधी रहती है बल्कि यह खर्राटों को भी कम करता है। मगर इस पोजीशन में सारा भार एक तरफ होने से पीठ व कमर दर्द की शिकायत हो सकती है और इससे चेहरे पर झुर्रियां भी आ सकती है। गर्भवती महिलाओं के लिए यह सबसे अच्छी नींद की स्थिति है। इस पोजीशन में सोते हुए एक बड़े तकिए को जांघों के बीच में लेकर सोएं।


फेटल पोजीशन (Fetal Position)

अगर आप गौर किया हो तो यह पोजीशन भ्रूण की स्थिति के समान है। ज्यादातर महिलाएं इस स्थिति में सोना पसंद करती है। शरीर के जरूरी अंगों को आराम देने के लिए इस स्थिति में बाईं ओर सोने की सलाह दी जाती है। इससे खर्राटों की समस्या नहीं होती और यह गर्भवती महिलाओं के लिए भी फायदेमंद है।


फ्रीफॉल पोजीशन (Freefall Position)

इसमें आप अपने पेट के बल सोते हैं। एक्सपर्ट इस पोजीशन में सोने के मना करते हैं क्योंकि इससे शरीर के अंदरूनी भागों पर जोर पड़ता है, जो सेहत के लिए हानिकारक है। साथ ही इससे गर्दन और कंधे पर भी ज्‍यादा जोर पड़ता है। इस पोजीशन में पूरा चेहरा तकिए में दब जाता है, जिससे त्वचा के रोम छिद्र बंद हो जाते हैं। इससे आपको पिंपल्स, झुर्रियां और फाइन लाइन्स जैसी स्किन प्रॉब्लम्स का सामना करना पड़ सकता है। इसनी ही नहीं, इस पोजीशन में सोने से आंखों के नीचे सूजन भी आ जाती है।


Yearner Position

अपने पैरों को थोड़ा झुकाकर, भुजाओं को फैलाकर सिर को बीच में रखकर सोना गर्दन और पीठ में दर्द को होने से रोकता है। यह पोजीशन स्लीप एपनिया और खर्राटों को कम करने में मददगार है। शोध के अनुसार, इस पोजीशन में सोने वाले लोगों में रात को जागने की संभावना कम हो जाती है लेकिन इससे कंधे व बाजुओं में दर्द की शिकायत हो सकती है। चेहरे की झुर्रियों की संभावना को कम करने के लिए साटन के तकिए पर सोएं।

No comments

Powered by Blogger.