Your Ads Here

लोकसभा चुनाव : भाजपा के बाद अब जोगी कांग्रेस में खींचतान

रायपुर । लोकसभा चुनाव के मद्देनजर राजनीतिक पार्टियों की तैयारियां तेज हो गई है। इधर राज्य में 15 साल तक सत्ता सुख भोगने के बाद विपक्ष में आ चुके भाजपा में जहां खींचतान मचा हुआ है तो वहीं प्रमुख विपक्षी के रूप में उभरी जोगी कांग्रेस में भी घमासान मचा हुआ है।  लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी राजनीतिक दलों में एकमात्र कांग्रेस में अभी एकजुटता देखने को मिल रही है। प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी पीएल पुनिया लगातार बैठक लेकर पीसीसी नेताओं और पदाधिकारियों को एकजुट रखे हुए हैं। विधानसभा चुनाव में मिले अप्रत्याशित जीत के बाद कांग्रेसजनों के चेहरे खिले हुए हैं। संगठन से जुड़े पदाधिकारियों के साथ ही कार्यकर्ताओं को भी यह यकीन हो गया है कि एकजुट रहने में ही भलाई है। लिहाजा अभी कांग्रेस में एकजुटता देखने को मिल रही है। दूसरी ओर राज्य में 15 साल तक सत्ता सुख भोगने के बाद अचानक सत्ता से वंचित होना भाजपाईयों को रास नहीं आ रहा है। पार्टी के भीतर ही नेताओं के बीच जमकर जुबानी जंग चल रही है। विधानसभा चुनाव में हार का ठिकरा दूसरों के सिर फोडऩे की होड़ में भाजपा के नेता लगातार बयानबाजी कर रहे हैं। भाजपा में मचे इस कोहराम के बीच राज्य में प्रमुख विपक्ष के रूप में उभरे जोगी कांग्रेस में भी खींचतान की स्थिति देखने को मिल रही है। हाल ही में जोगी कांग्रेस की नई कोर कमेटी का गठन किया गया है। इसमें आधा दर्जन नेताओं को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है। इनमें सियाराम कौशिक, चंद्रभान बारमते, चैतराम साहू जैसे नेता शामिल हैं। इस लिहाज से यह कहना भी गलत नहीं होगा कि जोगी कांग्रेस में भी घमासान मचा हुआ है।  

No comments

Powered by Blogger.