झीरम कांड जांच आदेश से बस्तर वासियों का इंसाफ का इंतजार


जगदलपुर । झीरम कांड की जांच के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा एसआईटी के गठन का स्वागत पीडि़तों द्वारा किया गया है। इस घटना में दिवंगत मनोज की मां रंभा देवी को आज भी इंसाफ का इंतजार है। अपने इकलौते बेटे मनोज को इस घटना में खो चुकी दरभा की रंभादेवी के लिए यह कभी न भरने वाला घाव है। उनका कहना है कि अपने युवा बेटे के असामयिक निधन से उनके मन में गहरा दुख पहुंचा है और दोषियों को सजा मिलने पर ही मन को शांति मिलेगी। इस घटना के चश्मदीद रह चुके मलकीत सिंह गैदू ने कहा कि मुख्यमत्री द्वारा एसआईटी गठन की घोषणा से पीडि़तों के मन में न्याय की आस जगी है और इस घटना के दोषियों को सजा मिलने पर घटना में मृत लोगों के परिजनों को न्याय मिलेगा। उन्होंने कहा कि दोषियों को मिलने वाली सजा ही सबसे बड़ी राहत होगी।