कैबिनेट की बैठक में नहीं ले सकते कोई नीतिगत फैसला : निर्वाचन आयोग


भोपाल । मध्यप्रदेश में मतदान और मतगणना के बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की ओर से बुलाई गई मंत्रिमंडल की बैठक को लेकर कांग्रेस की ओर से आपत्ति उठाने के बीच निर्वाचन आयोग ने कहा है कि बैठक में किसी प्रकार के नीतिगत फैसले नहीं लिए जा सकते।
प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वी एल कांताराव ने इस बारे में संवाददाताओं से चर्चा के दौरान कल कहा कि उन्हें कैबिनेट बैठक के संबंध में अभी कोई पत्र नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि बैठक हो सकती है, लेकिन इसमें कोई नीतिगत फैसले नहीं लिए जा सकते।
प्रदेश में कल पांच दिसंबर को मंत्रिमंडल की बैठक बुलाई गई है। विधानसभा चुनाव के लिए 28 नवंबर को मतदान हुआ था। मतगणना 11 दिसंबर को होगी।
इस बैठक को लेकर आपत्ति उठाते हुए कांग्रेस प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी ने कहा कि पार्टी के पास आपत्ति का आधार है। उन्होंने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी सरकार शासकीय मशीनरी का दुरुपयोग कर रही है। उन्होंने कहा कि ऐसा क्या कारण है, जिसके चलते भाजपा सरकार को आखिरी समय में बैठक करनी पड़ रही है। ये संवैधानिक मूल्यों के साथ खिलवाड़ है। बैठक में जब कोई नीतिगत फैसले नहीं हो सकते तो इसका क्या औचित्य है।