प्रदेश के किसी भी मतदान केन्द्र में नहीं होगा पुनर्मतदान


रायपुर। छत्तीसगढ़ में विधानसभा निर्वाचन - 2018 के अंतर्गत किसी भी मतदान केन्द्र में पुनर्मतदान नहीं होगा। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा इस जानकारी की पुष्टि कर दी गई है। यह छत्तीसगढ़ के लिए कीर्तिमान है। उल्लेखनीय है कि प्रदेश में दो चरणों में 12 नवम्बर और 20 नवम्बर 2018 को 90 विधानसभा सीटों के लिए मतदान हुए थे। मतदान के बाद कुछ एक स्थानों पर पुनर्मतदान की मांग की गई थी। सभी तथ्यों पर विचार करने के बाद भारत निर्वाचन आयोग ने किसी भी विधानसभा क्षेत्र के किसी भी मतदान केन्द्र में दोबारा मतदान नहीं करने का निर्णय लिया है। यह जानकारी छ्तीसगढ़ के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू को भारत निर्वाचन आयोग द्वारा संसूचित कर दी गई है। प्रदेश के 90 विधानसभा क्षेत्रों के लिए 23 हजार 672 मतदान केन्द्रों में छिटपुट घटनाओं को छोड़कर निष्पक्ष, स्वतंत्र, पारदर्शी और शांतिपूर्ण ढंग से मतदान सम्पन्न हुआ था।