विराट ने तोड़ा द्रविड़ का 16 साल पुराना रेकॉर्ड


नई दिल्ली। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने मेलबर्न टेस्ट के दूसरे दिन एक और उपलब्धि अपने नाम कर ली। गुरुवार को 47 रन के निजी स्कोर से अपनी पारी को आगे बढ़ाने आए रेकॉर्ड रन मशीन कोहली ने आज अपने खाते में 35 रन और जोड़े। इस पारी को वह शतक में तो तब्दील नहीं कर पाए लेकिन उन्होंने विदेशों में एक कैलेंडर साल में भारत के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने का रेकॉर्ड अपने नाम कर लिया। इस साल विराट ने अब तक 1138 रन बना लिए हैं, जबकि अभी मेलबर्न टेस्ट में एक पारी खेली जाना बाकी है।
कप्तान विराट कोहली (82) भारत के तीसरे विकेट के रूप में मिशेल स्टार्क की बॉल पर आउट हुए। लेकिन आउट होने से पहले वह एक साल में विदेशों में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज का रेकॉर्ड अपने नाम कर चुके थे। उन्होंने राहुल द्रविड़ के 16 साल पुराने रेकॉर्ड को तोड़ा। विराट कोहली ने इस साल विदेशों में खेले 11 टेस्ट की 21 पारियों में 1138 रन बनाए हैं। इससे पहले यह रेकॉर्ड टीम इंडिया के दिग्गज बल्लेबाज राहुल द्रविड़ के नाम था। द्रविड़ ने 2002 में विदेशों में 1137 रन बनाए थे।
एक कैलेंडर साल में भारत के लिए विदेशों में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में विराट कोहली अब द्रविड़ से 1 रन आगे हैं। इस अंतर को बढ़ाने के लिए अभी मेलबर्न टेस्ट में उनके पास एक पारी और है। द वॉल राहुल द्रविड़ ने साल 2002 में जब एक ही साल में विदेशों में 1137 रन बनाए थे, तब उन्होंने 19 साल पुराने मोहिंद्र अमरनाथ के रेकॉर्ड को तोड़ा था। मोहिंदर अमरनाथ ने 1983 में 1065 रन बनाए थे। इस फेहरिस्त में महान टेस्ट बल्लेबाज सुनील गावसकर अब चौथे स्थान पर हैं। लिटिल मास्टर ने 1971 में एक साल में विदेशों में भारत के लिए कुल 918 रन बनाए थे।
आज बॉक्सिंग डे टेस्ट के दूसरे दिन भी मेलबर्न की पिच पर भारतीय बल्लेबाजों ने सहजता से अपना खेल जारी रखा। विराट और चेतेश्वर पुजारा की जोड़ी ने दूसरे दिन के पहले सत्र में ऑस्ट्रेलिया को कोई सफलता नहीं मिलने दी। दूसरे सत्र में विराट कोहली दिन के पहले विकेट के रूप में आउट हुए। कोहली ने 82 रन की इस पारी के लिए कुल 204 बॉल का सामना किया और उन्होंने इस दौरान 9 चौके जड़े। वहीं इस मैच में शतक बनाने वाले बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने 106 रन बनाने के लिए 319 बॉल का सामना किया।
भारत ने अपनी पहली पारी 443/7 के स्कोर पर घोषित की है। पुजारा के शतक के अलावा मयंक अग्रवाल (76), विराट कोहली और रोहित शर्मा (63) ने भी फिफ्टी जड़ी। आज दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया बिना कोई विकेट गंवाए 8 रन जोड़ चुका था। वह भारत की पहली पारी के स्कोर से अभी भी 435 रन पीछे है।