नोटबंदी से बढ़ा टैक्स कलेक्शन: रविशंकर


भाेपाल। केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने नोटबंदी को देशहित में लिया गया निर्णय बताते हुए आज कहा कि इससे भारत की अर्थव्यवस्था को दीर्घकालीन लाभ हुए हैं। श्री प्रसाद ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार नोटबंदी और वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) का मुद्दा उठा रहे हैं, लेकिन वे लोगों को भ्रमित करने का काम कर रहे हैं। केन्द्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार के इन कदमों से देश की अर्थव्यवस्था को दीर्घकालीन लाभ हुए हैं।
उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद देश में दो लाख 24 हजार फर्जी कंपनियां पकड़ी गईं। इन कंपनियों के खातों में एक सप्ताह में ही चार हजार करोड़ से अधिक की राशि जमा हुई। उन्होंने आंकड़ों का हवाला देते हुए कहा कि वित्त वर्ष 20013-14 में देश में 3.82 करोड़ लोग इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करते थे, जिनकी संख्या नोटबंदी के बाद वर्ष 2017-18 में दोगुनी होकर 6.86 करोड़ हो गई।
श्री प्रसाद ने आगे कहा कि इसी तरह वर्ष 2013-14 में इनकम टैक्स के रूप में कलेक्शन छह लाख 38 हजार करोड़ थी, जो 2017-18 में बढ़कर लगभग 10 लाख करोड़ हो गई। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के फलस्वरूप ही भारत आज दुनिया की सबसे तेज बढ़ती अर्थव्यवस्था वाला देश होने के विश्व की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गई है।
भाजपा नेता ने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की सराहना करते हुए कहा कि उनके नेतृत्व में एक बीमारू प्रदेश अब विकसित राज्य बन गया है। सूचना प्रौद्याेगिकी (आईटी) के क्षेत्र में प्रदेश में हो रहे विकास की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश एक आईटी हब के रूप में विकसित हो रहा है। ग्वालियर और इंदौर के बाद अब प्रदेश में तीन और सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पॉर्क बन रहे हैं। प्रदेश के ग्वालियर, सागर, विदिशा और रायसेन जैसे शहरों में बीपीओ शुरू होने वाले हैं। इनके अलावा राजधानी भोपाल में एक विश्व स्तरीय नेशनल डाटा सेंटर भी बन रहा है।