छत्तीसगढ़ में दूसरे एवं आखिरी चरण की 72 सीटो पर मतदान कल


रायपुर। छत्तीसगढ़ में दूसरे एवं आखिरी चरण की 72 विधानसभा सीटों पर कड़े सुरक्षा प्रबन्धों के बीच कल मतदान होगा।मतदान के लिए सभी तैयारियां पूरी हो गई है। राज्य के मुख्य निर्वाचन कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार इस चरण में जिन 13 जिलो में मतदान होना है,उनमें महासमुन्द,गरियाबन्द,धमतरी,कवर्धा एवं बलरामपुर जिले नक्सल प्रभावित है।इनमें सुरक्षा के बेहद कड़े बन्दोबस्त किए जा रहे है।गरियाबन्द एवं बलरामपुर जिलों में सुरक्षा कारणों से कई मतदान दलों को हेलीकाप्टर से रवाना किया जा रहा है।
इस चरण में कुल 1079 उम्मीदवार अपनी किस्मत चुनावी आजमा रहे हैं जिसमें 119 महिलाएं है। मतदान के लिए 19296 मतदान केन्द्र बनाए गए है।यहां पर लगभग एक करोड 53 लाख 85 हजार से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। नक्सल क्षेत्र के सभी मतदान केन्द्रों को अति संवेदनशील घोषित किया गया है।
मतदान को शान्तिपूर्ण सम्पन्न करवाने के लिए व्यापक बन्दोबस्त किए गए है।केन्द्रीय एवं राज्य पुलिस बलों की लगभग 650 कम्पनियों की तैनाती की गई है।इसके अलावा वायु सेना के कई हेलीकाप्टर भी तैनात किए गए है।इसके साथ ही एहतियात के दौर पर एयर एम्बुलेंस भी तैनात की जा रही है।राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी सुब्रत साहू स्वयं कई जिलों का दौरा कर वहां की मतदान की तैयारियों का जायजा ले चुके है। इस चरण में जिन सीटो पर मतदान होगा उनमें जनता कांग्रेस बसपा गठबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार अजीत जोगी की सीट मरवाही,कांग्रेस विधायक दल के नेता टी.एस.सिंहदेव की सीट अम्बिकापुर,प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल की सीट पाटन,प्रदेश भाजपा अध्यक्ष धरम कौशिक की सीट बिल्हा,विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंर अग्रवाल की सीट कसडोल,कांग्रेस प्रचार अभियान समिति के अध्यक्ष पूर्व केन्द्रीय मंत्री डा.चरणदास महंत की सीट सक्ती शामिल है।
इसके अलावा राज्य के मंत्रियों बृजमोहन अग्रवाल के क्षेत्र रायपुर दक्षिण,अमर अग्रवाल के क्षेत्र बिलासपुर, प्रेमप्रकाश पांडेय के क्षेत्र भिलाई नगर,राजेश मूणत के क्षेत्र रायपुर पश्चिम,भैयाराम रजवाड़े के क्षेत्र बैकुंठनगर,रामसेवक पैकरा के क्षेत्र प्रतापपुर,पुन्नूलाल मोहले के क्षेत्र मुंगेली,अजय चन्द्राकर के क्षेत्र कुरूद में भी कल मतदान होगा।
इस चरण में सबसे अधिक 46 प्रत्याशी रायपुर दक्षिण सीट पर है।इसके बाद 37 प्रत्याशी रायपुर पश्चिम सीट पर तथा 33 प्रत्याशी बिलासपुर जिले की बिल्हा सीट पर है।उन्होने बताया कि इन तीनो सीटो पर तीन–तीन ईवीएम मशीने लगानी पड़ेगी।जबकि 15 ऐसी सीटे है,जहां पर 16 से अधिक उम्मीदवार होने के कारण दो दो ईवीएम मशीने लगाई जायेगी।इस चरण में सबसे कम 06 प्रत्याशी गरियाबन्द जिले की बिन्द्रानवागढ़ सीट पर चुनाव मैदान में है।
इस चरण की अधिकांश सीटों पर सत्तारूढ़ भाजपा एवं मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला है।कई सीटों पर जनता कांग्रेस-बसपा गठबंधन ने चुनावी मुकाबले के त्रिकोणीय बनाने की कोशिश की है।
इस चरण के प्रचार में भाजपा ने जहां 15 वर्षों के विकास तथा कांग्रेस के राज्य गठन के बाद के तीन साल तथा अविभाजित मध्यप्रदेश में इस क्षेत्र की हुई अनदेखी की याद दिलाते हुए लोगो ने राज्य में चौथी बार सरकार बनाने के लिए समर्थन मांगा तो कांग्रेस ने 15 वर्षों से लगातार सत्ता में बनी भाजपा सरकार पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाते हुए परिवर्तन के लिए समर्थन मांगा।जनता कांग्रेस बसपा गठबंधन ने राष्ट्रीय दलों के इतर तीसरे विकल्प के नाम पर वोट मांगे है।