Your Ads Here

भारत-बांग्लादेश सीमा से मिटेगा ईस्ट पाकिस्तान का नाम, हटाए जाएंगे पुराने 'निशान'


नई दिल्‍ली : भारत-बांग्लादेश सीमा पर स्थित ईस्ट पाकिस्तान वाले बॉर्डर पिलर को जल्द बदला जाएगा. बांग्लादेश सरकार ने कुछ साल पहले भारत सरकार से अनुरोध किया था कि सीमा पर भारत पाकिस्तान के बंटवारे के दौरान लगे ईस्ट पाकिस्तान वाले पिलर को वो हटाना चाहता है. बांग्लादेश सरकार ईस्ट पाकिस्तान की जगह बांग्लादेश वाले नए पिलर लगाना चाहती है.

देखा जाए तो भारत और पाकिस्तान सीमा पर लगे बॉर्डर पोस्ट की बीएसएफ देखभाल करती है, लेकिन अब तक भारत और बांग्लादेश सीमा पर लगे बॉर्डर पोस्ट संबंधित राज्य सर्वे से लेकर मेन्टेन्स करते थे, लेकिन अब मेघालय को छोड़कर सभी बॉर्डर पोस्ट की मेन्टेन्स का काम केंद्र सरकार ने बीएसएफ के जिम्मे दे दिया है.

बीएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, "हमें केंद्र सरकार से बॉर्डर पिलर बदलने की इज़ाजत मिल गई है. पहले फेज के तहत भारत-बांग्लादेश सीमा के ईस्ट पकिस्तान के 31 पिलर बदले जाएंगे. हम असम के धुबरी, फ़लकता के 13 बॉर्डर पिलर को बदलने का काम अगले हफ़्ते से शुरू करेंगे और बाकी 18 पिलर बांग्लादेश की बीजीबी बदलेगी."

उल्‍लेखनीय है कि 1971 से पहले बांग्लादेश ईस्ट पाकिस्तान कहा जाता था, लेकिन भारत पाकिस्तान की सीमा पर लगे ईस्ट पाकिस्तान वाले पिलर पोस्ट नही बदले गए थे, लेकिन अब करीब 49 साल बाद बांग्लादेश अपने देश से ईस्ट पाकिस्तान से संबंधित सारे निशान अब मिटाएगा.

No comments

Powered by Blogger.