Your Ads Here

फिर होंगे आमने-सामने सुषमा और कुरैशी



नई दिल्ली। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी का एक बार फिर से आमना-सामना होगा। भारत-पाकिस्तान दोनों देशों के विदेश मंत्री ताजिकिस्तान में 11-12 अक्तूबर को आयोजित शंघाई सहयोग संगठन (SCO) में शिरकत करेंगे। इस खबर के बाद एक बार फिर से अटकलों का बाजार गर्म हो गया है कि क्या वे दोनों मुलाकात करेंगे। हालांकि राजनीतिक सूत्रों के मुताबिक जिस तरह से मौजूदा हालात हैं, उसके मद्देनजर सुषमा और कुरैशी के बीच वन टू वन मीटिंग की संभावना नहीं है। इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक दोनों देशों के नेता दो दिन के कार्यक्रम के दौरान कई तरह की बैठकों में हिस्सा लेंगे।


ताजिकिस्तान के राष्ट्रपति इओमाली रहमान 11 अक्तूबर को राजधानी दुशांबे में सभी आमंत्रित नेताओं के सम्मान में एक भोज भी देंगे, इस दौरान भी कुरैशी का सुषमा से सामना होगा। इस पर फिर से हलचल मच गई है कि क्या सुषमा एक बार फिर से पाकिस्तान के विदेश मंत्री को नजरअंदाज करेंगी क्योंकि सार्क की बैठक सिर्फ दो घंटे की थी लेकिन SCO कार्यक्रम दो दिन का है और इस दौरान कई मौकों पर दोनों देशों के विदेश मंत्री एक-दूसरे के आमने-सामने आएंगे।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले 27 सितंबर को न्यूयॉर्क में हुई सार्क विदेश मंत्रियों की बैठक में सुषमा और कुरैशी भी शामिल हुए थे। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत से अनुरोध किया था कि दोनों देशों के विदेश मंत्रियों की एक मुलाकात संयुक्त राष्ट्र में बैठक से इतर हो लेकिन भारत ने इससे इंकार कर दिया था। इतना ही नहीं सुषमा ने भी कुरैशी को सबके सामने नजरअंदाज किया था। इस पर कुरैशी ने आपत्ति भी जताई थी कि भारत को ऐसा नहीं करना चाहिए था।

No comments

Powered by Blogger.