चिदंबरम का ऐलान- 2019 में पीएम पद का चेहरा नहीं होंगे राहुल गांधी



आगामी लोकसभा चुनावों को लेकर सियासी उथल पुथल तेज हो गई है। वहीं इसी बीच पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने चुनावों को लेकर बडा ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि पार्टी राहुल गांधी को प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर पेश नहीं करेगी। इसके साथ ही चिदंबरम ने भी यह भी साफ किया कि राहुल ही नहीं कांग्रेस अन्‍य किसी भी व्‍यक्ति की दावेदारी की घोषणा नहीं करेगी।

बीजेपी को सत्ता से करेंगे बाहर
कांग्रेस नेता ने एक नीजि चैनल को दिए इंटरव्यू में बताया कि हमने कभी नहीं कहा कि हम राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाना चाहते हैं। जब कुछ कांग्रेस नेताओं ने इस तरह की बात की थी तो ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी ने इस पर दखल दिया था और उनसे ऐसी बातें नहीं करने को कहा गया था। उन्होंने कहा कि हम बीजेपी को सत्ता से बाहर करना चाहते हैं। एक वैकल्पिक सरकार बनाना चाहते हैं जो प्रोग्रेसिव हो, व्यक्ति की आजादी का सम्मान करे, टैक्स टेररिज्म को बढ़ावा न दे, महिलाओं-बच्चों को सुरक्षा दे और किसानों की स्थिति में सुधार करे।


भाजपा कर रही धमकाने वाली राजनीति
चिदंबरम ने आगे कहा कि हम एक गठबंधन तैैयार करना चाहते हैं और प्रधानमंत्री पद का फैसला चुनाव के बाद गठबंधन के साथ मिल कर होगा। उन्होंने भाजपा सरकार पर आरोप लगाया कि वह धमकाने वाली राजनीति कर रही है, ताकि क्षेत्रीय पार्टियां कांग्रेस से हाथ न मिलाए। स्थिती उस वक्त बदलेगी, जब सरकार केयरटेकर के तौर पर रह जाएगी और हम राज्य स्तर पर अच्छा गठबंधन करेंगे।

गैर कांग्रेसी नेता भी हो सकता है उम्मीदवार
बता दें कि हाल ही में यह खबरें आई थी कि राहुल गांधी को अगले चुनाव में प्रधानमंत्री पद का चेहरे बनाने का फैसला किया गया था। लेकिन पार्टी द्वारा इस बात पर संकेत दिए कि प्रधानमंत्री पद के लिए गैर कांग्रेसी नेता भी हो सकता है। पार्टी ने कहा था कि वह इस पद के लिए विपक्षी दलों के बीच सर्वसम्मति बनाने की कोशिश करेंगे।