शुक्रवार, 4 सितंबर 2020

दिल्ली हवाई अड्डे पर अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए बनेगी कोरोना जांच प्रयोगशाला



नई दिल्ली। विदेश से आने वाले ऐसे यात्री जिन्हें आगे दूसरी घरेलू उड़ान पकडऩी है, वे अब दिल्ली हवाई अड्डे पर अपनी कोरोना वायरस संक्रमण की जांच करा सकेंगे। हवाई अड्डे का संचालन करने वाली कंपनी दिल्ली अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा लिमिटेड (डायल) ने आज बताया कि कोविड-19 जांच प्रयोगशाला बनाने के लिए उसने जीनस्ट्रिंग्स डायग्नोस्टिक सेंटर के साथ करार किया है। हवाई अड्डे पर अंतरराष्ट्रीय टर्मिनल के बहु-स्तरीय कार पार्किंग में 3,500 वर्ग मीटर में प्रयोगशाला बनाई जायेगी। चार से छह घंटे में जांच का परिणाम आ जायेगा।
नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने विदेश से आने वाले उन यात्रियों के लिए प्रयोग के आधार पर कोरोना जांच की व्यवस्था करने के लिए कहा था जिन्हें दूसरी कनेक्टिंग घरेलू उड़ान पकडऩी है। विदेश के आने के बाद पहले हवाई अड्डे पर ही यात्रियों की कोरोना जांच की जायेगी। मूल रूप से उन यात्रियों के लिए यह व्यवस्था की गई है जो विदेश से उड़ान पकडऩे से अधिकतम 96 घंटे पहले तक कोरोना वायरस संक्रमण जांच नहीं करा पाये हैं। हवाई अड्डे पर जिन यात्रियों की रिपोर्ट निगेटिव आयेगी, वे कनेक्टिंग उड़ान पकड़ सकेंगे। रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर स्थानीय राज्य के स्वास्थ्य दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90