सोमवार, 17 अगस्त 2020

कृषि क्षेत्र में अनुसंधान करें आईआईटी: नायडू


नई दिल्ली। उप राष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने देश के भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों - आईआईटी से कृषि क्षेत्र में अनुसंधान करने का आह्वान करते हुए सोमवार को कहा कि सस्ती और उपयोगी प्रौद्योगिकी के माध्यम से ग्रामीण विकास का स्थायी समाधान निकाला जाना चाहिए। श्री नायडू ने यहां दिल्ली आईआईटी की हीरक जयंती समारोहों के समापन कार्यक्रम को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करते हुए कहा - " हमारी पचास प्रतिशत से अधिक आबादी आज भी कृषि पर निर्भर है। आईआईटी के लिए आवश्यक है कि वे सस्ती और उपयोगी प्रौद्योगिकी टेक्नोलॉजी के माध्यम से ग्रामीण विकास के स्थायी समाधान निकालने पर अनुसंधान करें। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय शिक्षा मंत्रालय के 'उन्नत भारत अभियानÓ का आईआईटी दिल्ली राष्ट्रीय संयोजक है। इस अभियान के तहत शामिल 2000 भागीदार संस्थानों ने 10 हजार गांवों को विकसित करने का दायित्व लिया है। उन्होंने आईआईटी सहित देश के उच्च शिक्षा संस्थानों आग्रह किया कि वे समाज के लिए आवश्यक और उपयोगी अनुसंधान करें तथा पर्यावरण से लेकर स्वास्थ्य सम्बन्धी, सभी चुनौतियों का कारगर समाधान खोजने में सहयोग करें। इस अवसर पर केन्द्रीय शिक्षा मंत्री डॉ .रमेश पोखरियाल निशंक, आईआईटी दिल्ली के निदेशक प्रो वी रामगोपाल राव तथा अन्य गणमान्य अतिथि उपस्थित रहे।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90