सोमवार, 24 अगस्त 2020

पाकिस्तान में एक और आंतकी संगठन प्रतिबंधित


इस्लामाबाद। पाकिस्तान सरकार ने खातम-उल-अंबिया नामक एक और आतंकवादी संगठन को प्रतिबंधित करने का फैसला किया है। माना जाता है कि खातम-उल-अंबिया को अंसारुल हुसैन से जुड़ा संगठन माना जाता है जो आमतौर दाएश के नाम से जाने जाने वाले आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) समूह से लडऩे के लिए शिया युवाओं की भर्ती करता है।
वर्ष 2016 के अंत में अंसारूल हुसैन को प्रतिबंधित किया गया था। माना जा रहा है कि पाकिस्तान ने फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) की तरफ से ब्लैकलिस्ट किये जाने से बचने की कोशिश के तहत इन आतंकवादियों तथा आतंकवादी संगठनों पर प्रतिबंध लगाये हैं और इससे संबंधित नई सूची जारी की है। पाकिस्तान सरकार ने 21 अगस्त को दाएश, अल कायदा और तालिबान से जुड़े 88 आतंकवादियों पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की थी। एफएटीएफ ने पाकिस्तान को जून, 2018 में ग्रे लिस्ट में शामिल किया था और 2019 के अंत तक एक कार्यायोजना को पूरा करने के लिए कहा था लेकिन कोविड-19 महामारी के कारण यह समय-सीमा बढ़ा दी गई थी।
पाकिस्तान सरकार ने प्रतिबंधित आतंकवादी संगठनों और आतंकवादियों की सभी तरह की चल और अचल संपत्तियां जब्त करने के आदेश भी दिये हैं। इसके साथ ही आतंकवादियों के बैंक खातों के फ्रीजिंग के आदेश भी दिये गये हैं। रिपोर्ट के अनुसार इन आतंकवादियों के वित्तीय संस्थानों के माध्यम से पैसे स्थानांतरित करने, हथियारों को खरीदने और विदेश यात्रा करने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। एफएटीएफ की अगली समीक्षा बैठक आगामी अक्टूबर माह में होनी है जिसे देखते हुए पाकिस्तान आतंकवादियों और आतंकवादी संगठनों पर प्रतिबंध लगाने का नाटक कर रहा है। एफएटीएफ ने फरवरी में अपने अधिवेशन में कहा था कि पाकिस्तान ने अब तक 27 प्रतिबद्धताओं में से 13 पूरी नहीं की है।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90