बुधवार, 15 जुलाई 2020

जियो में गूगल का 7.73 प्रतिशत के लिये 33737 करोड रुपये निवेश,दोनों मिलकर देश को करेंगे 2जी मुक्त


मुंबई। एशिया के सबसे अमीर रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) के अध्यक्ष मुकेश अंबानी ने बुधवार को अनुषंगी इकाई जियो प्लेटफॉम्र्स में अमेरिका की सोशल मीडिया की दिग्गज गूगल के 33737 करोड रुपये के निवेश और भारत को 2जी से मुक्त कराने और सस्ते 4जी और 5जी एंड्रॉयड फोन लांच करने का ऐलान किया। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) के साये में रिलायंस की 43 वीं आम बैठक को वर्चुअल प्लेटफार्म पर आज संबोधित करते हुए ऐलान किया कि जियो प्लेटफॉम्र्स में गूगल 7.73 प्रतिशत के लिये 33737 करोड रुपये का निवेश करेगी। श्री अंबानी ने रिलायंस को पूरी तरह कर्जमुक्त होने की घोषणा करते हुए कहा कि पूंजी जुटाने का लक्ष्य पूरा हुआ और जियो प्लेटफॉम्र्स में हिस्सेदारी बिक्री, राईट्स इश्यू और बी पी के निवेश को मिलाकर कुल दो लाख 12 हजार 809 करोड रुपए जुटाए गये। इसमें से 13 निवेशकों के 14 प्रस्तावों से कुल 152055.45 करोड रुपये जियो प्लेटफॉम्र्स में 32.97 प्रतिशत इक्विटी बिक्री से जुटाये गए हैं। जियो प्लेटफॉम्र्स संभवत: पहली कंपनी है जिसमें फेसबुक और गूगल दोनों हिस्सेदार हैं। श्री अंबानी ने भारत को 2जी मुक्त करने की घोषणा करते हुए कहा कि गूगल के साथ मिलकर एंड्रॉयड बेस्ड स्मार्टफोन के लिए ऑपरेटिंग सिस्टम बनाएंगे। दोनों की साझेदारी से भारत 2जी मुक्त होगा।
उन्होंने कहा कि हमारा मकसद सभी भारतीय के हाथों में स्मार्टफोन देना है। भारत में करीब 35 करोड़ 2जी फीचर फोन उपभोक्ता हैं। गूगल और जियो मिलकर इन लोगों के लिए सस्ता स्मार्टफोन बनाएगी। जियो का मकसद 30 करोड़ लोगों को 2जी से 4जी में अपग्रेड करना है। उन्होंने कहा कि जियोफोन अभी भी दुनिया का सबसे अफॉर्डेबल 4जी स्मार्टफोन है। अध्यक्ष ने कोरोना को इतिहास का सबसे बड़ा संकट बताते हुए उम्मीद जताई कि भारत और विश्व जल्दी ही इससे उबरने में कामयाब रहेगी। उन्होंने कहा कि 50 लाख ग्राहकों ने जियोमीट को डाउनलोड किया है। इसे जियो की युवा टीम ने हाल में विकसित किया है। उन्होंने कहा कि जियो ने घरेलू तकनीक से 5जी सॉल्यूशन विकसित किया है और दूसरे देशों को इसका निर्यात किया जाएगा। श्रीअंबानी ने इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के विजन को समर्पित किया। उन्होंने कहा कि जियो फाइबर से 10 लाख से अधिक घर जुड़ गए हैं।
गूगल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुंदर पिचई ने वीडियो संदेश में कहा कि भारत जैसे देश में सभी के पास इंटरनेट होना चाहिए। उन्होंने कहा कि जियो और गूगल की पार्टनरशिप से ऐसे लाखों भारतीयों को भी इंटरनेट मिल सकेगा जिनके पास स्मार्टफोन नहीं है। श्री अंबानी ने कहा जियो ने एक संपूर्ण 5जी सॉल्यूशन तैयार किया है जो अगले साल तक उपभोक्ता के लिए लाया जा सकता है। सरकार की तरफ से 5जी स्पेक्ट्रम उपलब्ध करने के बाद इसका परीक्षण कर ग्राहक के लिए उपलब्ध करा दिया जायेगा। उन्होंने आगे कहा कि सरकार की तरफ से स्पेक्ट्रम उपलब्ध कराए जाने के बाद जियो प्लेटफॉर्म दुनिया के दूसरी दूरसंचार कंपनियों को भी 5जी सॉल्यूशन निर्यात कर सकेगा।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90